इंसानियत किसी गुज़रे ज़माने की चीज़ जैसी हो गई है. हो सकता है कहीं होती हो लेकिन अब जल्दी दिखती नहीं है. इंसान क्रूरता की सारी हदें पार कर गया है. इस वीडियो को देखकर तो यही लगता है.

अगर भगवान राम और वीर हनुमान धरती पर होते तो वे भी रो पड़ते. भगवान राम, रावण का वध एक बार टाल भी देते लेकिन अपने इन भक्तों को कभी नहीं माफ़ कर पाते.

राजस्थान के नागौर ज़िले में दो व्यक्तियों को एक मानसिक रूप से अस्वस्थ महिला को, रबर पाइप से पिटाई के जुर्म में गिरफ़्तार कर लिया गया है. पुलिस का कहना है कि यह घटना मंगलवार की है लेकिन इस घटना के बारे में उन्हें जानकारी तब हुई जब किसी ने इसे सोशल मीडिया पर वायरल किया.

मारने वाला आदमी महिला को पीट-पीट कर जय श्री राम और जय हनुमान बोलने को कह रहा है. महिला भी डर से राम-राम कह रही है. प्रकाश मेघवाल और श्रवण मेघवाल नाम के इन दो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया है.

बालाजी पुलिस स्टेशन के प्रभारी पूरनमल मीना ने कहा है कि, 'हम इस वीडियो को अपलोड करने वाले व्यक्ति की भी तलाश कर रहे हैं.' उन्होंने कहा कि हम पीड़िता की भी तलाश कर रहे हैं, जिससे उसके बयान के हिसाब से हम दोषियों के ख़िलाफ़ एक्शन ले सकें.

महिला को मारने वालों ने अपने बचाव में कहा है कि महिला उनके खेत में चोरी करने गई थी इसी शक़ में उन्होंने महिला को पीटा. इस वीडियो में महिला को रबर की पाइप से पीट रहे हैं और महिला मदद के लिए गुहार लगा रही है. कोई उसे बचाने नहीं आ रहा. दोषियों ने किसी की पहचान में न आ सकें इसलिए अपना चेहरा भी ढक रखा था.

अभी कुछ दिन पहले रामपुर में कुछ लड़के दो लड़कियों के साथ कैमरे के सामने अभद्रता कर रहे थे. ये दो युवक भी इस विक्षिप्त महिला को रबर पाइप से कैमरे के सामने पीट रहे हैं. मतलब साफ़ है अब अपराधियों को कानून से डर बिलकुल भी नहीं लगता. अगर प्रशासन इसी तरह लचर रहा तो आम आदमी का समाज में जीना मुश्किल हो जायेगा और अपराधियों के हौसले बढ़ते रहेंगे.