आज इंटरनेट हम सब की ज़रूरत बन गया है. सिर्फ़ सर्फिंग और ऑनलाइन चैट के अलावा अब बहुत से लोग इंटरनेट के ज़रिये शॉपिंग भी करने लगे हैं. यदि 1991 के दौर की बात की जाए, तो कंप्यूटर एक सामान्य उपकरण था. उस समय किसी ने भी इन्टरनेट के बारे में सुना भी नहीं था. लेकिन ऐसे समय भी फ्रांस के लोग पहले से ही ऑनलाइन चैट और ऑनलाइन शॉपिंग जैसी चीज़ों से अवगत थे, जिसके पीछे उनका खुद का सिस्टम Minitel था.

Source: Aiesec

Minitel है क्या?

Minitel एक तरह की Videotex Online सेवा थी, जिसे दुनिया की सबसे सफ़ल प्री-वर्ल्ड वाइड वेब ऑनलाइन सेवाओं में से एक माना जाता है. इसमें एक स्क्रीन, कीबोर्ड, और एक मॉडम होता था. इसमें प्रोसेसर नहीं होने के बावजूद इसे रिमोट के ज़रिए चलाया जा सकता था. आज कल इसका उपयोग Chromebook के तौर पर भी किया जाता है.

Minitel की शुरुआत 1982 में हुई थी. इस सेवा से लगभग 25,000 से भी ज़्यादा लोग जुड़े हुए थे. जहां आज कल लोग सिर्फ़ World Wide Web के द्वारा ज़्यादातर काम करते हैं. वहीं उस समय ऐसी बहुत सी वेबसाइट थीं, जो Minitel नेटवर्क पर बनाई गयीं थी. इस पर तमाम तरह के Multiplayer Games, घर के सामानों की खरीद और बैंक अकाउंट जैसी सुविधा उपलब्ध रहती हैं. इसके साथ ही इससे ऑनलाइन टिकट भी आसानी से बुक हो जाती थी. 1990 के बाद Minitel लोकप्रिय होना शुरू हुआ और आज लगभग 25 मिलियन लोग इससे जुड़े हुए हैं.

इस सुविधा को जीवित रखने के लिए France Telecom के द्वारा अनेक उपाय किये गये. कुछ दिनों के लिए 2012 में Minitel को बंद कर दिया गया था. बंद होने के बावजूद लोगों के घरों में इसके Terminals काम कर रहे थे. कुछ ऐसे सॉफ्टवेयर और मॉडर्न ग्राफ़िक्स जिन्हें प्राचीनकाल में उपयोग किया जाता था, उन्हें  Minitel के साथ में लाना काफ़ी कठिन काम होता था. न्यू जेनरेशन के लोग स्मार्टफ़ोन और इन्टरनेट इस्तेमाल करने योग्य हो चुके थे. उन्हें पुरानी चीज़ों की वजह से नई चीज़ों को खरीदने में ज़्यादा दिलचस्पी थी.

Defunct Old Box के साथ हुई Minitel की डील.

Minitel जब लॉन्च हुआ था, तब ये काफ़ी पॉपुलर और इनोवेटिव था, क्योंकि उस समय ये लोगों के बीच नए उपकरण की तरह था. इंटरनेट की दुनिया में इसके पिछड़ने की बड़ी वजह है कि लोगों को आज कल कुछ नया चाहिए, जिसमें Minitel काफ़ी पीछे है. हालांकि 2015 में Federal Communications Commission के तहत इसको सुधारने के लिए कई तरह की योजनाओं पर बात हुई है.

France Telecom ने Minitel पर ज़्यादा काम नहीं किया, जिसके कारण इसकी पॉपुलरिटी में कमी आई और लोगों ने इससे दूरियां बनानी शुरू कर दी. देखा जाए, तो आज कल इन्टरनेट पर बहुत ज़्यादा ज़ोर दिया जा रहा है, जिससे लोग नहीं समझ पा रहे कि Minitel को सरकार चला रही है, या फिर कोई प्राइवेट कंपनी.

Source: Indiatimes

Feature Image source: Canadianbusiness