गलतियां करना, इंसान का स्वाभाव है. शायद इसीलिए कहा गया है कि इन्सान गलतियों का पुतला होता है. इन्हीं गलतियों से सीख कर इन्सान बेहतर भविष्य बनाता है. आज हम आपको कुछ फ़ेमस चीज़ों में की गयी बड़ी गलतियों के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें पकड़ना तो आसान था, पर ये लम्बे समय तक किसी की नज़र में नहीं आयीं.

1. The White House

White House के चित्र में एक बड़ी गलती थी. उसमें एक खिड़की गलत बनी हुई थी. इस पर ध्यान देने पर पता चला कि तस्वीर में ऐसी और भी कई गलतियां थीं. इस प्रतीक को ठीक नहीं किया गया और ये आज भी ऐसा ही है. 

2. Disney कॉन्सर्ट हॉल

इसे कर्व्ड मेटल से बनया गया था, ताकि ये बाहर की गर्मी को रिफ़्लेक्ट कर सके. इससे बिल्डिंग ठंडी तो रहने लगी, लेकिन आस-पास की बिल्डिंग इसके कारण काफ़ी गर्म रहने लगीं. उनका तापमान 60°C तक पहुंच गया. इसके बाद, एक प्रोटेक्टिव लेयर लगा कर इसे रोका गया.

3. हॉर्स मेमोरियल

ये दुनिया की सबसे बड़ी माउंटेन Carving है. South Dakota की Black Hills पर बनी इस आकृति के पीछे एक कहानी है. Crazy Horse नाम के एक भारतीय से पूछा गया था कि उसकी ज़मीन कहां है. उसने क्षितिज की ओर इशारा करते हुए कहा कि मेरी ज़मीन वहां है, जहां मेरे पूर्वज दफ़न हैं.

कई सालों बाद उसके सम्मान में उंगली से इशारा करती हुई ये आकृति बनायी गयी. ये करते हुए लोग भूल गए कि उंगली दिखाना भारत में अपमानजनक माना जाता है.

4. Aircraft Carriers

पहले के Aircraft Carriers में जहाज़ों को लैंडिंग और टेक-ऑफ़ में परेशानी होती थी. कई बार कम जगह के कारण दुर्घटनाएं भी हो जाती थीं. इसमें कुछ बदलाव कर के इस समस्या को हल किया गया.

5. Wikipedia

इस साइट के लोगो में अलग-अलग भाषाओं में ग्लोब पर लिखा हुआ था. जापानी और हिंदी शब्दों को गलत लिखने के कारण उनका अर्थ बदल रहा था. इसे शिकायत के बाद सुधरा गया.

6. Bridgewater Place

इस बिल्डिंग का नाम "The Windraiser" रखा गया था. इंजीनियर की गलती के कारण इस बिल्डिंग का आकार ऐसा था कि इसके आस-पास बहुत तेज़ हवाएं चलती थीं. कई बार लोग इनके कारण गिर भी जाते थे. इसके कारण एक बार पार्किंग में खड़ी कुछ गाड़ियां भी पलट गयी थीं.

7. Mona Lisa

इस मशहूर पेंटिंग का X-ray करने पर पाया गया कि ये तीन परतों में बनी है. कुछ लोगों का ऐसा मानना है कि इसे बनाते वक़्त लेओनार्डो द विंची इस महिला की भौहें बनाना भूल गए थे. इसके अलावा, महिला के सीधे हाथ पर भी एक अजीब उभार है.

8. चौकोर खिड़कियां

पहले प्लेन्स में चौकोर खिड़कियां होती थीं. इसके कारण एक बार एक बड़ा हादसा हो गया था, जिसमें 56 यात्रियों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा. दरअसल, चौकोर खिड़कियों के कोनों पर अधिक भार आ जाता है, जो उड़ान के दौरान और बढ़ जाता है. इसलिए पुरानी बिल्डिंग्स में भी खिड़कियों के कोनों से दरार पड़ जाती है. इस दुर्घटना के बाद प्लेन में गोल फ्रेम वाली खिड़कियां लगाना शुरू किया गया.

Source: Brightsideme