जल्द ही इंडियन प्रीमियर लीग यानि कि आईपीएल का 10वां सीज़न शुरू होने वाला है. जिसके लिए बीते सोमवार खिलाड़ियों की नीलामी हुई. इस ऑक्शन में कई नए क्रिकेटर्स की ज़िन्दगी बदल गई. इस ऑक्शन के दौरान जहां तमिलनाडु में रहने वाले एक मजदूर के बेटे थंगरासू नटराजन को किंग्‍स इलेवन पंजाब ने 3 करोड़ में खरीदा, वहीं ये ऑक्शन हैदराबाद के तेज गेंदबाज मोहम्‍मद सिराज के लिए खुशी लेकर आई है.

Source: livehindustan

आपको बता दें कि 22 वर्षीय मोहम्मद सिराज को सनराइज़र्स हैदराबाद ने 2.6 करोड़ में खरीदा है. आईपीएल-10 में सिराज सनराइज़र्स हैदराबाद के लिए खेलेंगे, उन्होंने हैदराबाद टीम के साथ 2.6 करोड़ रुपये का करार किया है. आईपीएल में अपने बेटे सिराज की लगी इतनी बड़ी बोली से उनके पिता मोहम्‍मद गौस और मां शबाना बेगम बहुत ख़ुश हैं. आपको बता दें कि सिराज दाएं हाथ से तेज गेंदबाजी और बल्‍लेबाजी करते हैं. गौरतलब है कि उन्होंने 10 टी 20 मैचों में 16 विकेट लिए हैं.

इस तेज गेंदबाज का प्रथम श्रेणी सत्र में प्रदर्शन काफ़ी शानदार रहा है और इसके कारण उन्‍हें भारत 'A' और शेष भारत के लिए भी टीम में शामिल किया गया.

2.6 करोड़ का करार करने के बाद सिराज ने कहा, ‘मुझे याद है कि क्रिकेट खेलते हुए मैंने जो पहली कमाई की थी वो 500 रुपये थी. यह क्लब का एक मैच था और मेरे मामा टीम के कप्तान थे. मैंने 25 ओवर के मैच में 20 रन देकर नौ विकेट हासिल किये थे. मेरे प्रदर्शन से मामा इतने खुश हुए कि उन्होंने मुझे बतौर इनाम 500 रुपये दिए. वो पल मेरे लिए एक अनमोल एहसास था. लेकिन आईपीएल में जब मेरी बोली 2.6 करोड़ रुपये तक पहुंची तो मैं सन्न रह गया.’
Source: livehindustan

उन्होंने कहा, ‘मेरे वालिद साब (पिता) ने बहुत मेहनत की है. वह ऑटो चलाते थे, लेकिन उन्होंने कभी भी परिवार की आर्थिक स्थिति का मेरे और मेरे बड़े भाई पर असर नहीं पड़ने दिया. गेंदबाजी की एक स्पाइक की कीमत बहुत होती है और वह मेरे लिए सबसे अच्छी स्पाइक लाते. मैं अच्छे से इलाके में उनके लिये एक घर खरीदना चाहता हूं.’

Source: wahcricket

सिराज बताते हैं, 'मैंने टेनिस बॉल से क्रिकेट की शुरुआत की थी, और मैंने खुद से ही क्रिकेट खेलना सीखा. मेरी गेंदबाज़ी में स्पीड थी, लेकिन टेनिस बॉल क्रिकेट खेलना आपको और अधिक परिपक्व खिलाड़ी बनाता है.'

गौरतलब है कि मोहम्मद सिराज हैदराबाद टीम के लिए खेलते हैं. सिराज ने 2015-16 की रणजी ट्रॉफी के लिए 15 नवंबर 2015 में फर्स्ट क्लास डेब्यू किया था. उन्होंने टी-20 में 2 जनवरी 2016 को 2015-16 सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के लिए डेब्यू किया था.

Feature Image Source: livehindustan
Source: timesofindia