आज अगर लड़कियों के चहेरे पर एक मुंहासा भी हो जाए, तो वो बेहद हताश और परेशान हो जाती हैं. अगर आप भी छोटी-छोटी चीज़ों को लेकर काफ़ी टेंशन में आ जाते हैं, तो मिलिए इस 23 साल की महिला से. इसके बारे में जानने के बाद शायद आपको अपनी तमाम उलझने कम लगने लगें.

ऑस्ट्रेलिया के Victoria's Trafalgar की रहने वाली Sheridan Larkman दो बच्चों की मां हैं. ये बचपन से ही एक अजीबोगरीब बीमारी से ग्रसित हैं. महज़ 8 वर्ष की उम्र में उनके ब्रेस्ट उभरने लगे और अभी तक ये सिलसिला जारी है. फ़िलहाल K साइज़ ब्रेस्ट के साथ दर्द भरी ज़िंदगी गुज़ार रहीं Larkman को डर है कि अगर जल्द ही उनके स्तनों की सर्जरी नहीं की गई, तो आने वाले वक़्त में उनके स्तन और भारी होते जाएंगे.

डेली मेल से बातचीत के दौरान Larkman ने बताया, 'मैं 8 वर्ष की उम्र से ही एक यंग Teen की तरह विकसित होने लगी थी. ये मेरी ज़िंदगी का सबसे कठिन दौर था.' आगे बताते हुए वो कहती हैं कि 'इस वक़्त मैं ख़ुद को दूसरी लड़कियों से अलग महसूस कर रही थी. इस दौरान मुझे लोगों से कई असभ्य टिप्पणियां भी सुनने को मिली.'

Larkman कहती हैं कि 'लोग मेरा मज़ाक बनाने लगे थे. मुझे नहीं पता था कि इस पर मैं क्या प्रतिक्रिया दूं. अब मुझे ख़ुद से ही घिन आने लगी थी. मैं ऐसे कपड़े पहनती थी, जिससे मेरा शरीर छिप सके.'

जैसे-जैसे समय की गति आगे बढ़ रही थी, वैसे-वैसे Larkman के स्तन भी बढ़ते जा रहे थे. अंजाम ये हुआ कि 16 की उम्र तक आते-आते, उसे स्पेशल H कप ब्रा मंगवा कर पहननी पड़ी.

Larkman कहती हैं कि उन्होंने अपने स्तनों को कभी तोला नहीं, अगर उन्हें तोला जाए तो उनका वज़न करीब 5 से 6 किलो के बीच होगा. वहीं डॉक्टर से बात करने पर पता चला कि उनकी ब्रेस्ट सर्जरी करनी पड़ेगी, जिसके लिए तमाम पैसों की ज़रूरत है. GoFundMe से सर्जरी के लिए $8,000 डॉलर जुटाने वाली दो बच्चों की ये मां लोगों से मदद की गुहार लगाते हुए अपने पेज पर लिखती है, 'कृपया थोड़ी सी कटौती कर इलाज के लिए पैसे जुटाने में मेरी मदद करें, ताकि मैं भी अपने बच्चों के साथ ज़िंदगी का लुत्फ़ उठा सकूं.' भारी स्तनों की वजह से Larkman को Scoliosis और पीठ दर्द रहता है.

दो नवजात शिशुओं के वज़न के बराबर ब्रेस्ट के साथ ज़िंदगी जीने में कैसा लगता है, इसकी शायद हम और आप कल्पना भी नहीं कर सकते. Larkman उन तमाम लोगों के लिए प्रेरणा हैं, जो छोटी-छोटी बातों पर हार मान लेते हैं.

Source : dailymail