बिज़नेस टाइकून मुकेश अंबानी भारत के सबसे अमीर व्यक्ति हैं. मुकेश अंबानी लाखों-करोड़ों के नहीं, बल्कि अरबों की सम्पति के मालिक हैं. आपको बता दें कि उनकी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज़ लिमिटेड देश की तीसरे नंबर की सबसे प्रॉफिटेबल कंपनी है. साथ ही उनका बिज़नेस एनर्जी, पेट्रोकेमिकल, टेक्सटाइल, नेचुरल रिसॉर्सेज़, रिटेल और टेलीकम्युनिकेशन्स में भी बहुत बड़ा है.

पूरे देश को डिजिटल बनाने के उद्देश्य से उन्होंने रिलायंस जिओ की शुरुआत की, जिसने पूरे मार्केट में बाकी नेटवर्क कंपनीज़ में हलचल पैदा कर दी. इसके लॉन्च के 6 महीनों के अन्दर ही दूरसंचार बाज़ार में मौजूद प्रतिस्पर्धी कंपनियों में कीमतों की जंग छिड़ गई.

बीते बुधवार मुंबई में आयोजित नेसकॉम लीडरशिप फोरम में लोगों को संबोधित करते हुए इस कारोबारी दिग्गज ने कहा, 'अपने खुद के पैसे से भी अधिक ध्यान से अपने निवेशकों के पैसों का उपयोग करना चाहिए और उसको ज़्यादा बहुमूल्य समझना चाहिए. दूसरा आप एक सही और सक्षम टीम के बिना कुछ नहीं कर सकते. - मेरे निवेशक और मेरी टीम मेरे लिए इम्पोर्टेन्ट हैं.'

इसके साथ ही मुकेश अंबानी ने अपने पिता द्वारा बिज़नेस के पहले पाठ को याद करते हुए कहा, 'उद्यमिता के बारे में सबसे पहला पाठ मेरे पिता जी ने मुझको उस वक़्त दिया था, जब मैं अमेरिका से वापस आया था. मैंने उनसे अपनी भूमिकाओं, जिम्मेदारियों और अपने काम के बारे में पूछा और उन्होंने मुझे बताया कि अगर मैं नौकरी करना चाहता हूं, तो सबसे पहले मुझे एक अच्छा मैनेजर बनाना पड़ेगा.'

1. उनके शब्दों को याद करते हुए अंबानी ने कहा, 'एक उद्यमी को पता लगाना होगा कि उसे क्या करना है?'

2. 'जब आप अपने जुनून को पहचान लेते हैं, तब से आपकी सफ़लता का सफ़र शुरू हो जाता है. इसके साथ ही उन्होंने नए उद्यमियों से कहा कि सबसे पहले उस समस्या का पता लगाओ, जिसे आप हल करना चाहते हैं. 'ये समस्या का समाधान नहीं है, बल्कि ये समस्या को खोजना है. एक बार जब आपको समस्या का पता चल जाएगा, तो आप उसे तुरंत हल कर लेंगे.'

3. तीसरी बात जो मैंने सीखी और जिसे हमने अब हमने RIL में प्रतिस्थापित किया है, वो है, 'सबसे पहले आपको सामाजिक मूल्यों के बारे में समझना होगा.'

उन्होंने कहा, 'समस्‍याओं के समाधान निकालना ही काफी नहीं है. बल्कि समस्‍याओं को खोज निकालना आवश्‍यक है. एक बार आपको समस्‍या का पता चल जाता है, तो आप उसका समाधान निकाल लेते हैं'. जीवन में और प्रोफेशनल लाइफ में कई तरह की समस्‍याएं होती हैं. किसी भी समस्‍या की जड़ तक पहुंचना आवश्‍यक है, जिससे उसका समाधान निकाला जा सके.

4. फिर हंसते हुए उन्होंने कहा, 'कभी भी अपनी असफ़लताओं से डरो मत. बल्कि उनसे मिली सीख को याद रखो और कभी हार मत मानो'.

5. सफ़लता हासिल करने के लिए पॉज़िटिव रहना ज़रूरी है. अगर इस बात को ध्यान में रखते हुए कोई भी काम करेंगे तो आपको सफ़लता ज़रूर मिलेगी. आपके आस-पास बहुत से नेगेटिव लोग रहेंगे, लेकिन आपको पॉज़िटिव रहते हुए काम करना है.

6. एक अच्‍छी टीम के बिना आप कुछ नहीं कर सकते. इसलिए अच्‍छे लोगों के साथ टीम बनाना और मेहनत से काम में जुटे रहना, सफ़लता पाने के लिए बहुत ज़रूरी है.

मुकेश अंबानी को धीरूभाई अंबानी द्वारा मिले ये वो सक्सेस मंत्र, जो हमें भी आत्मसात कर लेने चाहिए.

Feature Image Source: news18

Source: beingindian