70 साल के आदमी ने अपने पड़ोस की एक 10 साल की बच्ची को चॉकलेट देने के बहाने अपने घर में बुलाया और उसका बलात्कार करने की कोशिश की. बच्ची बुज़ुर्ग की पीठ पर मार कर, उसे धक्का दे कर भाग निकली और सारी कहानी अपने मां-बाप को बता दी.

घटना गुड़गांव की है, जहां आरोपी चंद्रमुनी शर्मा अपनी बीवी और 2 बच्चों के साथ फ्लैट में रहता है, बच्ची भी उसी बिल्डिंग में रहती है. दोपहर के वक़्त बुज़ुर्ग अपने घर में अकेला था और बच्ची बिल्डिंग में अपने दोस्तों के साथ खेल रही थी. शर्मा ने उसे घर में बुला कर दरवाज़ा लॉक कर लिया. इसके बाद वो लड़की को गलत तरीके से छूने लगा और उसके साथ ज़बरदस्ती करने लगा.

Source: Mirror

अब उसे गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस ऑफिसर ने बताया कि बच्ची ने खुद को छुड़ाने का प्रयास किया, उसने बुज़ुर्ग की पीठ पर मारा और धक्का दे कर भागी.

आरोपी चंद्रमुनी शर्मा एक Private Security Firm में पिछले 25 सालों से काम कर रहा है. लड़की के परिवार ने VP रोड थाने में FIR दर्ज करायी है. आरोपी पर धारा 376 और धारा 506 लगाई गयी है. शर्मा पर POSCO एक्ट के तहत कार्यवाही होनी है. उसे 10 जून तक पुलिस हिरासत में रखा गया है.

ज़्यादातर बच्चों के साथ जब यौन शोषण होता है तो ऐसा करने वाले कोई अनजान नहीं बल्कि परिचित ही होते हैं, जैसे दोस्त, रिश्तेदार, ट्यूशन टीचर. ऐसे में ये बहुत ज़रूरी हो जाता है कि इन दरिंदों की पहचान की जाये, इससे पहले कि वो मासूमों को अपनी हवस का शिकार बनाएं.

Source: Psmalik

लोग बच्चों से इन सब मुद्दों पर बात करने से कतराते हैं, पर बच्चों को Good Touch और Bad Touch में अंतर सिखाना मां-बाप की ही ज़िम्मेदारी होती है. कई बार बच्चे समझ ही नहीं पाते कि कोई उनके साथ गलत कर रहा है. उन्हें इस बारे में अच्छे से समझाएं और उन्हें ये भी सिखाएं कि ऐसी किसी स्थिति में उन्हें कैसे खुद को बचाना चाहिए. उन्हें बताएं कि जब भी उन्हें लगे कि कोई उन्हें गलत तरह से छू रहा है, वो आपको बताएं.

किसी पर भी अपने बच्चों के मामले में ज़रूरत से ज़्यादा भरोसा न करें. ऐसा नहीं है कि यौन शोषण का शिकार सिर्फ बच्चियों को बनाया जाता है, लड़के भी इस खतरे से बाहर नहीं हैं, इसलिए उनसे भी इस बारे में बात ज़रूर करनी चाहिए.

बच्चे ऐसे दरिन्दों से बच सकें ,इसके लिए इस पोस्ट को अपने जानने वालों के साथ भी शेयर करें.

Source: Midday