आसमान में हवाई जहाज़ उड़ाने के साथ ही लड़कियां अंतरिक्ष में जा कर चांद पर जीवन तलाशने की कोशिश कर रही हैं. आज शायद ही कोई ऐसी जगह हो, जहां लड़कियों ने जीत का परचम न लहराया हो. लड़कियों की ऐसी ही हिम्मत को सलाम करते हुए महाराष्ट्र सरकार ने उन्हें एक नई ज़िम्मेदारी सौंपी हैं. दरअसल इतिहास में पहली बार मुंबई फ़ायर सर्विस में महिलाओं को शामिल किया गया है.

Source: mumbailive.com

ख़बरों के मुताबिक, हाल ही में मुंबई फ़ायर ब्रिगेड ने 97 महिला फ़ायर फ़ाइटर्स को भर्ती किया है. इससे पहले शहर में आग से लड़ने के लिए सिर्फ़ 18 लड़कियां ही मौजूद थीं, पर हाल ही में जॉइन कर आई लड़कियों के बाद इनकी संख्या 115 हो जाएगी. इनमें से ज़्यादातर लड़कियां महाराष्ट्र के ग्रामीण इलाकों से हैं, जिन्हें शहर के 34 फ़ायर Stations में तैनात किया हैं.

Source: timesofindia

फ़िलहाल ये लड़कियां वडाला के रीजनल कमांड सेंटर में रहकर अपनी ट्रेनिंग पूरी कर रही हैं. एक अख़बार से बात करते हुए चीफ़ फ़ायर ऑफ़िसर P Rahangdale ने kaha कि 'ये लड़कियां अपनी ट्रेनिंग की फ़ाइनल स्टेज़ पर हैं. इनकी ट्रेनिंग पूरी होने के बाद इन्हें शहर के फ़ायर स्टेशन में तैनात कर दिया जायेगा. इन लड़कियों का उत्साह देखने लायक है.'