पाकिस्तान की एक अदालत ने 24 वर्षीय इमरान अली को 4 बार मौत की सज़ा दी है. अली ने 6 वर्षीय ज़ैनब का बलात्कार और हत्या करने का जुर्म क़ुबूल किया था. अली पर भारी जुर्माना भी लगाया गया. अली के क़ुबूलनामे के बाद उसके वक़ील ने भी केस से हाथ खिंच लिये.

अदालत में अली के खिलाफ़ कई लोगों ने गवाही दी.

Source: Samaa TV

9 जनवरी 2018 को ज़ैनब का क्षत-विक्षत शरीर पाकिस्तान के कसूर क्षेत्र में कचरे के ढेर में मिला था. ज़ैनब क़ुरान की तालीम लेने घर से निकली थी.

ज़ैनब की निर्मम हत्या के बाद पाकिस्तान के लोगों में आक्रोश जाग गया था. लोग सड़क पर उतर आये, पुलिस के साथ झड़प भी हुई जिसमें 2 लोगों की जान भी गई.

इस हत्या से आक्रोशित होकर पाकिस्तान के 'समा टीवी' की एंकर ने अपनी बेटी को गोद में बिठाकर बुलेटिन पढ़ी. पोस्ट-मोर्टम से पता चला कि ज़ैनब को मारने से पहले उसका कई बार रेप किया गया. इस घटना के बाद पाकिस्तान समेत दुनियाभर में #JusticeForZainab नाम से कैंपन चलाया गया. पाकिस्तान में लोग सड़कों पर उतर आये.

Source: Zee News

ग़ौरतलब है कि भारत में भी पिछले कुछ दिनों में ऐसी कई घटनायें घटीं. दिल्ली में तो एक 8 महीने की बच्ची के साथ उसी के रिश्तेदार ने दिन-दहाड़े रेप किया. बच्ची की हालत देख डॉक्टर भी दहल गये और RJ Naved ने इसके खिलाफ़ एक ऑडियो कैंपेन भी चलाया.

हम भारतीय को लिये शायद ये सब रोज़मर्रा की ज़िन्दगी का हिस्सा बन चुका है क्योंकि मोमबत्ती ख़त्म होने से पहले हम घटना को भूल जाते हैं.

ज़ैनब के गुनहगार को पुलिस और पंजाब क्षेत्र के मुख्यमंत्री ने उस क्षेत्र में हुई कुछ अन्य बच्चियों की हत्या के साथ भी जोड़ा.

Source: Daily Aftab

क्षेत्रिय बाशिंदों का कहना है कि अली ने पिछले 1 साल में कई मासूमों को अपना निशाना बनाया था और पुलिस लापरवाही न दिखाती तो कुछ मासूम ज़िन्दगियां बच सकती थी.

देर से ही सही, ज़ैनब को न्याय मिला. ऊपरवाला उसकी आत्मा को सुकून बख़्शे.

Source- BBC