किसी भी ट्रिप पर जाना हो, तो साथ में एंटरटेनिंग चीज़ों को साथ ले जाना एक चुनौती होती है. हम जिस सोसाइटी में रहते हैं, वहां नशीली एंटरटेनिंग चीज़ों को साथ ले जाना और भी मुश्किल होता है.

अगर आप एंटरटेनमेंट के हाईवे पर रफ़्तार के ईंधन की खोज में हैं, तो ये ख़बर सिर्फ़ आपके लिए है. ग्लोबल ड्रग सर्वे की इस साल की एक रिपोर्ट के अनुसार, मशरूम सबसे सुरक्षित एंटरटेनिंग ड्रग है. द गार्जियन की एक रिपोर्ट के अनुसार, 12000 लोग जिन्होंने नशे के लिए Psilocybin Hallucinogenic मशरूम का प्रयोग किया, उनमें से केवल 0.2 % लोगों को इमर्जेंसी मेडिकल उपचार की ज़रूरत पड़ी. ये कोकीन, एलएसडी और एमडीएमए से पांच गुना कम है.

Source- Global Drug Survey

ग्लोबल ड्रग सर्वे के संस्थापक और व्यसन मनोचिकित्सक, एडम विनस्टॉक ने गार्जियन को बताया कि मैजिक मशरूम दुनिया में सबसे सुरक्षित नशीला पदार्थ साबित हुआ है, लेकिन इसके लिए सही मशरूम का चयन करना आवश्यक है, वरना मशरूम में पाए जाने वाले टॉक्सिन के हानिकारक प्रभाव देखने को मिल सकते हैं.

इसका मतलब ये भी नहीं है कि ये पूरी तरह सुरक्षित है. इन मशरूम का प्रयोग अगर दूसरे पदार्थों के साथ किया जाता है, तो ख़तरा और भी ज़्यादा हो सकता है.

विनस्टॉक का कहना है कि शराब या दूसरे रिस्की चीज़ों के साथ इसका प्रयोग करने से होने वाले नुकसान की संभावनाएं बढ़ जाती हैं. इससे एक्सीडेंटल इनजरी, भटकाव या परेशान होना और दिमागी संतुलन खोना जैसे नुकसान हो सकते हैं.

Source- Keyword Suggest

मशरूम आपकी ट्रिप ख़राब करने के साथ मज़ेदार भी बना सकता है. साल 2016 में रॉलेंड ग्रिफ़िथ्स और रॉबर्ट जेसी ने अपनी एक रिपोर्ट 'जॉन्स हॉपकिन्स मेडिसिन' में दावा किया था कि मशरूम उपयोग करने वाले 2000 लोगों में से 2.7% लोगों को चिकित्सा सहायता लेनी पड़ी थी और 7.6% लोगों को इलाज के लिए मनोवैज्ञानिक चिकित्सा उपचार प्रक्रिया से गुज़रना पड़ा था.

Source- Emaze

जॉन्स हॉपकिन्स मेडिसिन रिपोर्ट के अनुसार, नुकसान पहुंचाने वाले तत्वों में सिंथेटिक Cannabis सबसे ज़्यादा ख़तरनाक ड्रग था. इस ड्रग का सेवन करने वाले 30 से ज्यादा लोगों को Emergency स्वास्थ्य सेवाओं का सहारा लेना पड़ा, जो कि किसी ड्रग्स स्टडी में क्रिस्टल मेथैम्फेटामाइन को छोड़कर अन्य दूसरे पदार्थ की संख्या से कहीं ज़्यादा है. इस सर्वे में पता चला कि हर दस में एक व्यक्ति ऐसा होता है, जो साल में कम से कम 50 बार इस ड्रग का प्रयोग करता था. ये हमेशा से ही भ्रमित करने वाला रहा है, लोगों को इस पर निर्भर नहीं रहना चाहिए क्योंकि इसके लक्षण सामने नहीं आते, न ही ये किसी अंग को सड़ाते हैं; फिर भी लोगों के जीवन पर इनका गहरा प्रभाव पड़ता है.

कुछ भी हो ड्रग्स का प्रयोग स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं होता है.

Article Source: The Guardian

Feature Image Source - Businessinsider