लॉन्ग बीच, कैलिफ़ोर्निया में पुलिस ने जबरन एक मुस्लिम महिला का हिजाब हटाया था, जिसे अब जुर्माने में 54 लाख 47 हज़ार रुपये दिए जा रहे हैं. Kirsty Powell को पुलिस ने 2015 में उसके पति के साथ Lowrider वाहन चलाने के लिए हिरासत में लिया गया था.

2016 में महिला ने ये कहते हुए पुलिस पर मुकदमा किया था कि पुलिस ने उसके अधिकारों का उलंघन किया है. ये जुर्माना स्थानीय नगरपालिका प्राधिकरण द्वारा महिला को दिया जायेगा.

मुक़दमे में उसने कहा था कि इस पूरे वाकये के दौरान वो लगातार रो रही थी. न सिर्फ़ उसके सम्मान को चोट पहुंची, बल्कि उसकी धार्मिक भावनाएं भी आहत हुईं.

Powell पर दुकान से सामान चुराने का आरोप था, उसके पति ने दरख़्वास्त की थी कि उसकी पत्नी को किसी महिला अधिकारी द्वारा गिरफ़्तार किया जाये, लेकिन उसे अनसुना कर दिया गया. Powell को सारी रात बिना हिजाब के जेल में रखा गया.

हिजाब के बिना ही उसकी तस्वीर ली गयी, जो कि एक प्रताड़ना भरा अनुभव था. Council on American-Islamic Relations ने कहा कि धार्मिक स्वतंत्रता के लिए आवाज़ उठाने के लिए वो Kirsty की सराहना करते हैं.

Kirsty ने कहा कि वो नहीं चाहती थी कि किसी भी अन्य मुस्लिम महिला के साथ ऐसा हो, इसलिए उसने चुप न रहने का फ़ैसला किया.

Feature Image: Siasat

Source: Hindustantimes