सोशल मीडिया में भूख-प्यास से तड़प रहे बच्चे की तस्वीर देख कर हम सबकी संवेदना जाग जाती है, पर जब वही बच्चा सड़क पर हमें भूख-प्यास से तड़पता हुआ दिखाई देता है, तो न जाने वो संवेदना कहां गायब हो जाती है. अगर आप सोचते हैं कि हर इंसान इसी भावना से ग्रस्त है, तो दोस्त आपको सऊदी में रहने वाले हरीकृष्णन वी नायर से मिलना चाहिए. हरीकृष्णन दुबई की एक फ़र्म में बतौर बिज़नेस डेवलपमेंट मैनेजर के पद पर तैनात हैं.

केरल के रहने वाले हरीकृष्णन ने अबु धाबी इंटरनेशनल एयरपोर्ट की 'Big Ticket' लॉटरी खरीदा था, जिसमें उन्हें 3.2 मिलियन डॉलर की राशि मिली थी. इंडियन रुपयों के हिसाब से इसकी कीमत करीब 20.8 करोड़ रुपये है. इस बारे में हरिकृष्ण का कहना है कि 'लोग लगातार हमें कॉल करके बधाई दे रहे थे. पहले मुझे इस बात पर विश्वास नहीं हो रहा था, पर रेडियो स्टेशन से फ़ोन आया, तो मैंने खुद ही लॉटरी की वेबसाइट पर चेक किया.'

हरिकृष्ण तीन बार पहले भी इस लॉटरी के लिए अप्लाई कर चुके थे, पर हर बार उन्हें निराशा हासिल हुई. ख़ैर, इन पैसों से हरिकृष्ण दुनिया घूमने के साथ ही हिंदुस्तान में एक घर खरीदना चाहते हैं. हरिकृष्ण कहते हैं कि 'मैं हमेशा से चाहता था कि काश मैं कभी किसी तरह लोगों की मदद कर सकता. इन पैसों के आने के बाद मेरी ये चाहत भी पूरी हो जाएगी और इसका इस्तेमाल मैं ज़रूरतमंदों की मदद के लिए करूंगा.'

Source: indiatimes