युद्ध का रण हो या खेल का मैदान सामना अगर हमारे पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान से हो, तो हमें हारना मंजूर नहीं. वहीं दूसरी ओर ये भी कहा जाता है कि खेल वो जादू की पुड़िया है, जो दो देशों के बीच क़ायम नफ़रत को मोहब्बत में तब्दील कर सकती है. कुछ ऐसा ही जादुई नज़ारा हमें एशियन गेम्स 2018 के दौरान भी देखने को मिला.

बीते सोमवार नीरज चोपड़ा ने जेवलिन थ्रो में पहला स्वर्ण पदक हासिल कर देशवासियों का सिर गर्व से ऊंचा कर दिया. वहीं पाकिस्तान के खिलाड़ी अरशद नदीम के हिस्से में कांस्य पदक आया. खिलाड़ियों की इस जीत के साथ ही दुनिया को एक और ख़ूबसूरत दृश्य देखने को मिला, जिसमें ये दोनों खिलाड़ी एक-दूसरे से हाथ मिलाते नज़र आ रहे हैं.

सभी का दिल जीत लेने वाली इस तस्वीर को टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा ने ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा, 'खेल एक अच्छी शिक्षा है, जो हर बच्चे को दी जानी चाहिए.' इसके अलावा पाकिस्तान के खिलाड़ी हासन अली ने भी फ़ोटो पर ट्वीट कर, नीरज और नदीम की इस खेल भावना की प्रशंसा की है.

इसके बाद सोशल मीडिया पर ट्वीट्स की सुनामी ही आ गई और लोगों ने तरह-तरह से की इन खिलाड़ियों की तारीफ़:

नीरज और नदीम का यूं हाथ मिलाना अच्छा लगा और हम आशा करते हैं कि आगे भी इस तरह ही दोनों देशों के खिलाड़ियों को गले मिलते देखें.

Source : News18