ये तो आप सभी जानते होंगे कि 23 साल की एयर होस्टेस नीरजा भनोट ने 4 आतंकियों द्वारा 5 सितम्बर 1986 में हाईजैक हुए Pan Am Flight 73 में यात्रियों की जान बचाते-बचाते अपनी जान की कुर्बानी दी थी.

Image Source: Peppystory

एक बच्चे को आतंकी की गोली का निशाना बनने से बचाने में नीरजा ने अपनी जान गंवा दी. उनकी इस बहादुरी के लिए उनको मरणोपरांत अशोक चक्र पुरस्कार से सम्मानित किया गया. इस सम्मान को पाने वालों में नीरजा सबसे कम उम्र की थीं.

आइये अब आपको वो सन्देश सुनवाते हैं, जो नीरजा ने आख़िरी बार फ्लाइट में दिया था...

Source: FoxStarHindi

बॉलीवुड ऐक्ट्रेस, सोनम कपूर जल्द ही अपनी आगामी बायोपिक फ़िल्म 'नीरजा' में नीरजा भनोट के किरदार में नज़र आने वाली हैं. इसी वजह से नीरजा भनोट एक बार फिर सुर्खियों में आ गई हैं.

Source: Buzzfeed