हम आए दिन बच्चियों को जन्म के बाद फेंक दिए जाने की घटनाओं के बारे में पढ़ते हैं. पर सिर्फ़ हमारे देश में ही नहीं, विदेश में भी बच्चियों को जन्म के बाद मरने के लिए छोड़ देता है.

दक्षिणी ब्राज़ील के Parana State के Curitiba में कुछ स्त्रियों ने झाड़ियों में फेंक दी गई दो बच्चियों की जान बचाई है. ये स्त्रियां उन झाड़ियों के पास से गुज़र रही थी और इन्हें बच्चों के रोने की आवाज़ सुनाई दी.

स्त्रियों को लगा कि रोने की आवाज़ कुत्ते के बच्चों की है, पर जब वे वहां पहुंची तो उनके होश उड़ गए क्योंकि झाड़ियों में दो नवजात बच्चियां थी. इन बच्चियों की जीवन नली तक अलग नहीं की गई थी.

बच्चियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है और दोनों स्वस्थ हैं, डॉक्टरों के अनुसार बच्चियों को जानबूझ कर उनकी मां ने फेंक दिया था. अस्पताल के स्टाफ़ ने बच्चियों का नाम Eloa और Heliosa रखा. Eloa का मतलब God और Heliosa का मतलब Warrior Woman होता है.

भारत में ही नहीं, ब्राज़ील में भी लड़कियों को पैदा नहीं करना चाहते लोग.

Source: The Sun