भारत सरकार ग्रीनफ़ील्ड एक्सप्रेस-वे योजना बना रही है, जिसके तहत अब आप दिल्ली से मुंबई का सफ़र सड़क मार्ग द्वारा तय कर सकते हैं. इतना ही नहीं, दिल्ली-मुंबई के बीच बनने वाले नए एक्सप्रेस-वे से दोनों महानगरों के बीच का सफ़र महज़ 12 घंटों में पूरा किया जा सकेगा. यानि, अगर अब तक आपको दिल्ली से मुंबई पहुंचने में 24 घंटे का समय लगता था, तो अब उसका आधा समय लगेगा.

ख़बरों के अनुसार, इस हाईवे के लिए एक नया मार्ग निर्धारित किया जाएगा. एलाइनमेंट सीधा न होने की वजह से इसकी लंबाई लगभग 120 किलोमीटर से भी कम होगी. बताया जा रहा है कि आने वाले एक्सप्रेस की स्पीड की गुणवत्ता यमुना एक्सप्रेसवे और आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे से अच्छी होगी. इन दोनों एक्सप्रेस-वे की गति 100 किमी और 120 किमी है.

ये एक्सप्रेस-वे पूर्वी राजस्थान और पश्चिमी मध्यप्रदेश के पिछड़े और आदिवासी इलाकों के लिए काफ़ी सहायक साबित होगा, क्योंकि ये एक्सप्रेस इन्हीं इलाकों से होकर गुजरेगा. इसीलिए दोनों क्षेत्रों की आर्थिकी गतिविधियों में बढ़ोत्तरी होगी और अगर ऐसा हुआ, तो ज़ाहिर सी बात है कि वहां के क्षेत्र में बदलाव होना संभव है.

ख़बरों के मुताबिक, एक्सप्रेस-वे के पहले चरण के काम की शुरूआत हो चुकी है, जिसे पूरा होने में करीब 15 महीने का वक़्त लगेगा. इस बारे में बात करते हुए सड़क मार्ग और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा, 'नई एक्सप्रेस-वे योजना कम विकसित क्षेत्रों से पारित होगी. इसके साथ ही इसकी गति पर भी विशेष ध्यान दिया जाएगा, ताकि दुर्घटनाओं का जोख़िम कम हो.'
Source : Hindustantimes

फ़िलहाल, अभी आपको राजधानी एक्सप्रेस से दिल्ली से मुंबई पहुंचने में करीब 14 से 16 घंटे का समय लगता है. वहीं दोनों शहर के बीच की दूरी 1400 किलोमीटर है.

Source : Autocarindia

Feature Image Source : Indiacarnews