दिल्ली में 8 फरवरी को विधान सभा चुनाव होने वाले हैं. 11 फरवरी को चुनाव नतीजे आएंगे. ऐसे में हम लाएं हैं वोटर्स के लिए कुछ अहम जानकारियां.

Source: Hindustan Times

दिल्ली मेट्रो और डीटीसी बसों का समय


दिल्ली मेट्रो 8 फरवरी को अपनी सेवाएं 4 बजे से ही शुरू कर देगी ताकी पोलिंग अधिकारी और स्टाफ़ समय से बूथ तक पहुंच सकें. एक ट्वीट द्वारा DMRC ने इस बात की जानकारी दी.


एक रिपोर्ट के मुताबिक़, 35 रूट्स पर सुबह 4 बजे से बस सेवाएं शुरू हो जाएंगी. इसमें नगर बॉर्डर से बदरपुर बॉर्डर, नज़फ़गढ़ से नेहरू प्लेस, पंजाबी बाग से टिकरी बॉर्डर, बदरपुर बॉर्डर से मोरी गेट और आनंद विहार बस अड्डा, मेहरौली से रेलवे स्टेशन, मोरी गेट टर्मिनल से कापसहेड़ा बॉर्डर सहित कई रूट्स शामिल हैं.

निर्वाचन आयोग द्वारा दी गई वोटर्स को कई सुविधाएं


सभी पोलिंग स्टेशन्स पर फ़र्स्ट एड, पीने के पानी, वेटिंग शेड, पानी की सुविधा के साथ टॉयलेट, दिव्यांगों के लिए रैम्प आदि बनाए गए हैं.

हर पोलिंग स्टेशन पर वोटर असिस्टेन्स बूथ बनाए गए हैं जहां अधिकारी वोटर्स को अपना बूथ पहचानने और उस बूथ पर उनका सीरियल नंबर पहचानने में सहायता करेंगे.

नेत्रहीन मतदाताओं के लिए EVM के Balloting Unit पर ब्रेल साइनेज है. Balloting Unit की दाहिनी तरफ़ कैंडिडेट्स के वोट बटन के साथ ही 1 से 16 डिजिट नेत्रहीनों की सहायता के लिए ब्रैल साइनेज में हैं.

निर्वाचन आयोग ने वोटर्स की सुविधा के लिए एक ऐसा हेल्पलाइन ऐप लॉन्च किया है जिस पर सभी उम्मीदवारों का विवरण उपलब्ध है.

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने 7 और 8 फरवरी को 6:30 बजे तक हर तरह के Exit और Opinion Poll पर प्रतिबंध लगाया है.

वोट डालने की प्रक्रिया


वोट डालने की प्रक्रिया इस वीडियो द्वारा समझ सकते हैं

दिव्यांग और 80 से ज़्यादा उम्र के वोटर्स के लिए पिक ऐंड ड्रॉप की भी सुविधा है, जिसके रेजिस्ट्रेशन की आख़िरी तारीख़ 31 जनवरी थी.

वोट देने वालों को ये बातें ध्यान में रखनी होंगी:


- फ़ोन घर पर छोड़कर जाएं.

- सोच समझकर अपने उम्मीदवार को देखकर वोट डालें.

- उम्मीदवारों के बारे में अच्चे से छान-बीन करें और फिर अपना मत दें.

- परिवार का दबाव में आकर किसी पार्टी को वोट न करें.

एक रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली में चुनाव के लिए 90 हज़ार पुलिसवाले तैनात किए गए हैं. दिल्ली में 13,750 पोलिंग स्टेशन्स लगाए गए हैं.

दिल्लीवालों सैटर्डे बाद में Enjoy करना पहले 8 तारीख़ को जाकर वोट करना.