देश की विकास दर इस साल वैसी नहीं रही जैसी कि अपेक्षा की जा रही थी. इसका नतीजा है कि भारत प्रति व्यक्ति आय के हिसाब से पड़ोसी देश बांग्लादेश से भी पिछड़ जाएगा. ये अनुमान अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष(IMF) ने अपनी एक रिपोर्ट में लगाया है.

IMF की वर्ल्ड इकोनॉमिक रिपोर्ट के मुताबिक, भारत की प्रति व्यक्ति जीडीपी 31 मार्च 2021 को ख़त्म होने वाले वित्त वर्ष में 1,877 डॉलर रहने की संभावना है. वहीं दूसरी तरफ बांग्लादेश की प्रति व्यक्ति जीडीपी बढ़कर 1,888 डॉलर होने की उम्मीद है. 

Bangladesh
Source: examrace

इस तरह भारत दक्षिण एशिया में तीसरा सबसे ग़रीब देश बन जाएगा. उससे पीछे सिर्फ़ पाकिस्तान और नेपाल ही होंगे. यही नहीं भूटान, श्रीलंका और मालदीव की प्रति व्यक्ति जीडीपी भी इंडिया से अधिक है. हालांकि, भारत की जीडीपी अगले साल 8.8 की दर से वापसी करेगी. इस तरह वो दुनिया की तेज़ी से बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में शामिल हो जाएगा. चीन की अनुमानित जीडीपी 8.2 रहने की संभावना है.

Bangladesh
Source: thewire

पिछले 5 साल की बात करें तो भारत की प्रति व्यक्ति जीडीपी बांग्लादेश से 40 फ़ीसदी अधिक थी. इस दौरान बांग्लादेश ने निर्यात में वृद्धि, बचत और निवेश दर में स्थिर वृद्धि की मदद से अपनी अर्थव्यवस्था को मजबूत बना लिया. 

Bangladesh
Source: dhakatribune

इस रिपोर्ट के आने के बाद कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बीजेपी पर तंज कसा. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा- 'भाजपा के नफ़रत भरे सांस्कृतिक राष्ट्रवाद की 6 साल की ठोस उपलब्धि: बांग्लादेश भारत से आगे निकलने के लिए तैयार.'

वहीं दूसरी तरफ केंद्र सरकार के सुत्रों का कहना है कि, क्रय शक्ति समता(पीपीपी) के हिसाब से देखें तो भारत की जीडीपी बांग्लादेश की तुलना में 11 गुणा अधिक है. इसलिए IMF के इस अनुमान को ज़्यादा तरजीह देने की ज़रूरत नहीं है.