इन दिनों पूरी दुनिया कोरोना वायरस के क़हर से परेशान है. इससे बचने का एकमात्र तरीक़ा है सोशल डिस्टेंसिंग. मुश्किल समय में अपनों का पास होना बेहद ज़रूरी होता है, लेकिन कोरोना महामारी के मामले में बात अलग है.  

Source: business

इस वायरस की चपेट में आए लोग अपनों से दूर रहने को मजबूर हैं, उन्हें अकेले ही इस वायरस से जूझना पड़ रहा है. परिवार वाले उनकी सेहत को लेकर परेशान हैं. ऐसे में कुछ लोग अपनों से मिलने के लिए तरस-तरह के तरकीब अपना रहे हैं.  

इसी कड़ी में अमेरिका के कैलिफ़ोर्निया की रहने वाली 10 साल की Paige Saw ने कोरोना संक्रमित नाना-नानी से मिलने एक अनोखी तकनीक अपनाई. इस तकनीक के ज़रिए Paige सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन किए बिना ही अपने नाना-नानी से मिल पाई.  

Source: facebook

दरअसल, 10 साल की इस बच्ची ने यूट्यूब वीडियो देखकर प्लास्टिक का एक पर्दा बनाया. इस पर्दे में उसने अंदर की तरफ़ बड़ों के लिए जबकि बाहर की तरफ़ बच्चों के हाथों के साइज़ वाले कवर बनवाए. इसके बाद उसने इसे किसी की मदद से नाना-नानी के घर के दरवाज़े पर लटका दिया, ताकि वो बिना छुए नाना-नानी को हेली लगा सकें. 

Source: facebook

इस बच्ची की मां Lindsay Lindsay ने इस घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए लिखा, Paige ने किसी और का वीडियो देखकर ये ब्लैंकेट बनाया. उसने इसे ख़ासतौर पर नाना-नानी के लिए ही डिज़ाइन किया था. मैं बेहद हूं कि वो नाना-नानी को हग कर पाई.   

इसको लेकर इस बच्ची का कहना था कि, नाना-नानी मुझे गले लगाना चाहते थे, लेकिन वो ऐसा नहीं कर पा रहे थे. जब मैंने ये पर्दा बनाया तो वो इसे देखकर बेहद ख़ुश हो गए और मुझसे लिपट पड़े.  

Source: facebook

सोशल मीडिया पर लोग इस दृश्य को देखकर बेहद भावुक हो गए. इस वीडियो को अब तक 10K से अधिक बार देखा जा चुका है. जबकि कई लाइक और शेयर भी मिल चुके हैं.