नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में पिछले तीन दिनों से उत्तर-पूर्वी दिल्ली में जारी हिंसा में अब तक 20 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 200 से अधिक घायल बताए जा रहे हैं. नॉर्थ ईस्ट इलाके के सभी स्कूल बंद रहेंगे, CBSE की 10 वीं और 12 वीं की परीक्षा टाल दी गयी हैं. 

Source: thehindu

हालांकि, जाफ़राबाद में जिस इलाके से हिंसा की शुरुआत हुई थी अब वहां से धरने पर बैठे लोग जा चुके हैं, लेकिन हिंसा के ये आग अब दिल्ली के अन्य इलाकों खजूरी, चांदबाग, मुस्तफ़ाबाद, मौजपुर, बाबरपुर तक पहुंच चुकी है. इस क्षेत्र में बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतर कर पत्थरबाजी व गोलीबारी के ज़रिए विरोध कर रहे हैं. 

दिल्ली में जारी हिंसा के बीच पुलिस ने उत्तर पूर्वी दिल्ली में सुरक्षा बढ़ा दी है. भजनपुरा इलाके में सुबह हुई हिंसा के बाद अब सुरक्षाबलों ने मोर्चा संभाल लिया है. यहां पर BSF की ओर से मार्च निकाला जा रहा है. बता दें कि यहां पर उपद्रवियों ने एक पेट्रोल पंप में आग लगा दी थी और गाड़ियों में तोड़फ़ोड़ की गई थी. जबकि सीलमपुर इलाके में 1 महीने के लिए धारा-144 लागू कर दी गई है. 

इस बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में हिंसा को काबू करने के लिए सेना बुलाने की मांग की है. केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए कहा कि तमाम कोशिशों के बाद भी पुलिस हालात को कंट्रोल नहीं कर पा रही है. हिंसा प्रभावित इलाकों में तत्काल कर्फ़्यू लगा देना चाहिए. केजरीवाल ने ये भी लिखा कि वो इस संबंध में गृह मंत्री अमित शाह को लिख रहे हैं. 

दिल्ली के नवनियुक्त स्पेशल सीपी एस. एन श्रीवास्तव ने बुधवार सुबह जाफ़राबाद इलाके का निरीक्षण किया. इस दौरान उन्होंने स्थानीय लोगों से मुलाक़ात की. बता दें कि मंगलवार को ही IPS एस.एन. श्रीवास्तव को दिल्ली पुलिस का स्पेशल कमिश्नर (ला एंड ऑर्डर) नियुक्त किया गया था. 

Source: jagran

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल आज एक बार फिर हिंसा ग्रस्त उत्तर पूर्वी दिल्ली का दौरा करेंगे. इस दौरान वो हिंदू-मुस्लिम समुदाय के लोगों से बात करेंगे. अजीत डोभाल ने बीती रात हिंसा ग्रस्त इलाकों का दौरा किया था. इस दौरान उन्होंने मुस्लिम समाज के लोगों से मुलाक़ात की थी और सुरक्षा का भरोसा दिलाया था. डोभाल ने साथ ही किसी भी परिस्थिति से सख़्ती से निपटने के आदेश दिए हैं. 

Source: truescoopnews

गृहमंत्री अमित शाह पिछले चौबीस घंटे में इस मामले को लेकर 3 बड़ी बैठकें कर चुके हैं. इस मामले को लेकर आज पीएम मोदी आवास पर कैबिनेट की एक बैठक भी हुई. इस दौरान राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने बैठक में हालात की जानकारी दी. 

दिल्ली के बिगड़ते हालातों के बीच दिल्ली हाईकोर्ट ने बीती रात 12:30 बजे उस याचिका पर सुनवाई की जिसमें भड़काऊ भाषण देने वाले नेताओं के ख़िलाफ़ कड़ी कार्रवाई की मांग की गई थी. हाईकोर्ट ने याचिका पर सुनवाई करते हुए पुलिस से जवाब मांगा है. मामले की सुनवाई आज दोपहर 12:30 बजे जारी रहेगी. 

Source: jagran

इस दौरान कोर्ट ने दिल्ली पुलिस से पूछा कि अब तक क्या कार्रवाई हुई ये बताएं? दिल्ली हाई कोर्ट ने साफ़ तौर पर कहा कि ऐसे मामलों में किसी आदेश की ज़रूरत नहीं होनी चाहिए. पुलिस को ख़ुद ही भड़काऊ भाषण देने वाले लोगों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज कर कार्रवाई करनी चाहिए. याचिका में बीजेपी नेता अनुराग ठाकुर, कपिल मिश्रा और प्रवेश वर्मा पर हिंसा भड़काने के आरोप हैं. 

दिल्ली हिंसा से जुड़ी हर अपडेट के लिए पढ़ते रहिये Scoop Whoop हिंदी