फ़िल्में अक्सर काल्पनिक कैरेक्टर्स पर बनाई जाती हैं, मगर तब क्या हो जब वो काल्पनिक कैरेक्टर आपको रियल लाइफ़ में भी देखने को मिल जाए. हरियाणा में कुछ ऐसा ही हुआ है. आपको अभिषेक बच्चन (Abhishek Bachchan) की फ़िल्म ‘दसवीं’ (Dasvi) तो याद ही होगी.  

thequint

इसमें वो एक मुख्यमंत्री के रोल में थे जिसे किसी घोटाले में जेल जाना पड़ता है और वहां से वो दसवीं (10) की परीक्षा देता है. इसमें वो पास भी हो जाता है. कुछ ऐसा ही हरियाणा के पूर्व सीएम ओम प्रकाश चौटाला (Om Prakash Chautala) के साथ भी हुआ है. उन्होंने भी 87 की उम्र में दसवीं की परीक्षा पास कर ली है.

 ओपन स्कूल से दी थी दसवीं (Dasvi) की परीक्षा

dnaindia

हरियाणा के मुख्यमंत्री रह चुके ओम प्रकाश चौटाला को कल 10वीं और 12वीं की मार्कशीट सौंपी गई. उन्होंने National Institute Of Open School से ये दोनों परीक्षाएं पास की हैं. अब आप सोच रहे होंगे कि वो एक साथ दोनों क्लास में कैसे पास हो सकते हैं.  

जेल से दिए थे एग्ज़ाम

morungexpress

डरिये मत इसमें कोई घोटाला नहीं है. दरअसल, ओम प्रकाश चौटाला साल 2017 में ओपन से दसवीं की परीक्षा दी थी. उस वक़्त वो दिल्ली की तिहाड़ जेल (Tihar Jail ) में थे, यहां वो शिक्षक भर्ती घोटाले में शामिल होने के लिए 10 साल की सजा काट रहे थे. उन्होंने सारे एग्ज़ाम तो दिए पर वो इंग्लिश की परीक्षा नहीं दे पाए. 

रोका गया था रिज़ल्ट

Scroll

साल 2021 में चौटाला ने ओपन स्कूल से ही 12वीं की परीक्षा के पर्चे भर दिए. इसमें वो पास भी हो गए, लेकिन Haryana School Education Board ने उनका रिज़ल्ट रोक लिया गया क्योंकि, उन्होंने दसवीं की इंग्लिश की परीक्षा उत्तीर्ण नहीं की थी. इसलिए वो उन्हें इस साल दसवीं (Dasvi) के बचे हुए इंग्लिश के पेपर में भी बैठना पड़ा. उन्होंने इसे 87 प्रतिशत नंबरों से पास किया. इसलिए अब ओम प्रकाश चौटाला को एक साथ ही दसवीं और बारहवीं की परीक्षा उत्तीर्ण करने के सर्टिफ़िकेट दिए गए हैं.

इस ख़बर का पता जब ‘दसवीं’ स्टार अभिषेक बच्चन को पता चला तो उन्होंने ख़ुद ख़बर को ट्वीट करते हुए ओम प्रकाश चौटाला को बधाई दी.  

किसी ने सच ही कहा है उम्र बस एक नंबर ही है और ये ओम प्रकाश चौटाला ने एक बार फिर से साबित कर दिया है.