हमारी इस दुनिया में हमने इतना प्यास्टिक बना लिया है कि हज़ारों साल तक भी ये हमारी ज़िंदगी से दूर जाने वाला नहीं और जब हमें ये पता है तो क्यों न हम ही इसे अपनी ज़िंदगी के सबसे जरूरी वक़्त का साथी बना लें? अरे मैं प्लास्टिक के बढ़ावे की बात नहीं कर रहा, जो प्लास्टिक इस दुनिया में है उसके ज़रिए मकान बनाने की बात कर रहा हूं. 

Brick
Source: justdial

सुन कर आपको अजीब ज़रूर लगा होगा, लेकिन केन्या की एक महिला ने ये कर के दिखाया है. उसने प्लास्टिक से ईंट बना ली है. इस महिला का दावा है कि प्लास्टिक से बनीं ये ईंटे सीमेंट की ईंटों से कहीं ज़्यादा मज़बूत हैं. 

Brick
Source: yahoo

Nzambi Matee नाम की महिला ने ये कारनामा कर दिखाया है. उनके मुताबित ये ईंटें 4 से 5 गुना ज़्यादा मज़बूत हैं, दूसरी ईंटों से सस्ती है और इन ईंटों से सड़के और घर बनाए जा सकते हैं, जिनकी लाइफ़ दूसरी ईंटों से बने मकान से ज़्यादा है. 

Brick
Source: HT

Nzambi Matee की फ़ैक्ट्री हर रोज़ 1500 से ज़्यादा ईंटों का उत्पादन करती है और धीरे-धीरे इन ईंटों की डिमांड केन्या में बढ़ती जा रही है. इन ईंटो की ख़ास बात ये है कि इनके टकराने से आवाज़ तो नहीं आती, लेकिन ये आसानी से टूटती भी नहीं. 

brick
Source: HT

हम सबने एक बात ज़रूर पढ़ी या सुनी होगी कि आपके फ़ैसले ग़लत या सही नहीं होते आप उस फ़ैसले को ग़लत या सही साबित करते हो. इसी लाइन पर प्लास्टिक की इन ईंटों की तुलना करते हैं. प्लास्टिक बना कर हम प्रकृति का पहले ही बहुत नुकसान कर चुके हैं. तो क्यों न अब इस तरह के कदमों के साथ जुड़ कर शायद हम एक बेहतर दुनिया बना सके. इस बारे में सोचिएगा ज़रूर.