संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) सिविल सर्विस एग्ज़ाम में हर साल लाखों लोग हिस्सा लेते हैं. इनमें से कुछ ही उम्मीदवारों को सफ़लता हासिल होती है. तो वहीं कुछ उम्मीदवार महज़ कुछ अंकों से चूक जाते हैं. जो लोग इस परीक्षा में क़ामयाब हो जाते हैं, उन्हें ख़ूब सुर्ख़ियां मिलती हैं. इस बार UPSC के रिज़ल्ट में लड़कियों का दबदबा रहा है. इसमें पहले स्थान पर श्रुति शर्मा (Shruti Sharma), दूसरे नंबर पर अंकिता अग्रवाल (Ankita Agarwal) और गामिनी सिंगला (Gamini Singala) को तीसरी रैंक मिली. सोशल मीडिया पर रिज़ल्ट आते ही सफ़ल हुए छात्रों को बधाई देने वालों का तांता लग गया. उनकी प्रेरक कहानियां से न्यूज़ फ़ीड खचाखच भर गई.

UPSC exam
Source: businesstoday

हालांकि, इस बीच एक ऐसे भी UPSC उम्मीदवार का ट्वीट वायरल हो रहा है, जो मात्र कुछ अंकों से इस परीक्षा में सफ़लता हासिल करने से चूक गए. ये फ़ासला सिर्फ़ 11 अंकों का था. इसके साथ ही सबसे दुखदाई बात ये है कि ये उनका फ़ाइनल अटेम्प्ट था.

आइए आपको इस UPSC उम्मीदवार के बारे में बताते हैं.

कौन है ये UPSC उम्मीदवार?

सोशल मीडिया पर एक UPSC उम्मीदवार रजत संब्याल का एक ट्वीट वायरल हो रहा है, जो अपने अंतिम प्रयास में मात्र 11 नंबरों से पास होने में चूक गए. UPSC के परिणाम 30 मई को घोषित हुए थे, जिसमें रजत को अपने छठे और आख़िरी प्रयास में निराशा का सामना करना पड़ा. इसी के साथ उनकी 10 साल की मेहनत मिट्टी में मिल गई. लेकिन जो मिट्टी में नहीं मिला वो था उनका हौसला और हिम्मत. उन्होंने हौसले के साथ अपने ट्वीट में लिखा, "और मैं अब भी बढ़ता और चमकता रहूंगा." (Rajat Sambyal UPSC)

rajat sambyal
Source: twitter

ये भी पढ़ें: UPSC टॉपर श्रुति शर्मा पहली बार हो गई थीं फे़ल, फिर इस तरह 4 साल में हासिल किया ये मुकाम

रजत संब्याल का हिम्मत देने वाला ट्वीट

रजत संब्याल जैसे कई UPSC उम्मीदवार होते हैं, जो इस परीक्षा को पास करने के लिए जी जान लगा देते हैं. लेकिन कुछ कारणों से उन्हें हर बार निराशा हाथ लगती है. ऐसी स्थिति में ज़िंदगी से हिम्मत हारने और आत्मविश्वास के डगमगाने के बजाय, उम्मीदवारों को हमेशा पॉज़िटिव सोच के साथ आगे बढ़ना चाहिए और ये बात रजत संब्याल के हालिया ट्वीट से बेहतर और कोई नहीं दर्शा सकता है. (Rajat Sambyal UPSC)

Rajat Sambyal UPSC

उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, "10 साल की मेहनत मिट्टी में मिल गई. UPSC के 6 प्रयास पूरे हो गए हैं. 3 बार प्रीलिम्स फ़ेल, 3 बार मेन फ़ेल हो गया. अपने आखिरी प्रयास में, कल, मैंने एक इंटरव्यू में कम अंक मिलने के बाद हार मान ली. और फिर भी मैं आगे बढ़ रहा हूं” 

रिपोर्ट कार्ड की तस्वीरें भी की शेयर

रजत संब्याल ने अपने ट्वीट के अलावा अपने रिपोर्ट कार्ड और दिल्ली में संघ लोक सेवा आयोग कार्यालय के बाहर खींची गई अपनी तस्वीर भी शेयर की है. उनके रिपोर्ट कार्ड में दिख रहा है कि उन्होंने कुल 942 अंक प्राप्त किए. जानकारी के मुताबिक, रजत जम्मू और कश्मीर के सांबा ज़िले में पैदा हुए हैं और जम्मू में पले-बढ़े हैं. उन्होंने चंडीगढ़ के पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज से सिविल इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की है. इस बार उन्हें UPSC की परीक्षा में पास होने की पूरी उम्मीद थी, लेकिन वो मात्र 11 अंकों से चूक गए.  (Rajat Sambyal UPSC)

ट्विटर पर लोगों ने उनकी पॉजिटिविटी पर की सराहना

रजत के इस ट्वीट के बाद लोगों ने उन्हें हिम्मत न हारने की सराहना दी. साथ ही उनकी एग्ज़ाम में सफ़लता न हासिल करने पर भी उनकी पॉज़िटिविटी की प्रशंसा की. 

ये भी पढ़ें: ये हैं ऐसी 15 गोल्डन टिप्स जिन्हें फ़ॉलो कर लिया तो UPSC इंटरव्यू क्रैक करना हो जाएगा आसान

रजत संब्याल की पॉज़िटिव सोच बताती है गिरने के बाद फिर उठकर चलते रहने का नाम ही ज़िंदगी है.