कुछ दिनों पहले जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय में होस्टल फ़ीस बढ़ी और इस पर छात्रों ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया. फ़ीस बढ़ोतरी के विरोध में सोशल मीडिया से लेकर सड़कों तक आंदोलन हुए. 

कई लोग छात्रों के इस आंदोलन के विरोधी भी हैं, विरोधियों में से एक नाम है मशहुर आर. जे. रौनक उर्फ़ बउआ का, रौनक ने 'JNU फीस हंगामे का पूरा सच' टाइटल से वीडियो बना कर सोशल मीडिया पर अपलोड किया. 

रौनक ने अपने वीडियो में कई तथ्यात्मक ग़लतियां की हैं, जिसकी वजह से वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर उनके ख़िलाफ़ मुहिम छिड़ गई, यहां तक ट्विटर पर #BoyCottBaua भी ट्रेंड कर रहा था. 

रौनक के वीडियो में किए गए दावों को कई लोगों ने ख़ारिज किया और उसकी तथ्यातमक ग़लतियों को भी उजागर किया, बाद में रौनक ने वीडियो में से रौनक ने कुछ हिस्सों को हटा कर दोबारा से अपलोड किया. 

रौनक ने अपनी वीडियो में इस तस्वीर की उपयोग किया था और इसे JNU की छात्रा से जोड़ा था. दरअसल ये बहुत पुरानी तस्वीर है और इसे लोग मज़ाकिया तौर इस्तेमाल करते रहते हैं. 

The Quint की टीम ने भी रौनक के कई दावों को ख़ारिज किया. जैसै- फ़ीस वृद्धी होने के बाद JNU की होस्टल केंद्र सरकार द्वारा संचालित सबसे महंगी होस्टल वाली कॉलेज बन जाएगी. JNU की रैंकिग पर रौनक ने ग़लत दावा किया था. 

JNU के हालिया आंदोलन को कई लोग उसके पुराने 'Kiss Movment' से जोड़ कर ग़लत तरीके से पेश कर रहे हैं.