लद्दाख के इंजीनियर सोनम वांगचुक, जिनसे प्रेरित होकर '3 Idiots' का फंसूक बांगड़ू किरदार लिखा गया था ने एक और बेहतरीन आविष्कार कर डाला है.

Money Control की रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय सेना के जवानों के लिए उन्होंने एक ऐसा टेन्ट बना दिया है जो बाहर कितनी भी ठंड हो, अंदर गरमाहट देगा. सूरज की रौशनी, पानी और इन्सुलेटेड लेयर्स की मदद से ये टेन्ट अंदर के तापमान को कम रखेगा.  

वांगचुक ने ये नोट किया कि बाहर का तापमान -14 डिग्री सेलसियस होने के बावजूद अंदर का तापमान 15 डिग्री था. वांगचुक के एक ट्वीट के अनुसार, इस टेन्ट में गरमाहट के लिए केरोसीन की ज़रूरत नहीं पड़ेगी, जिससे प्रदूषण कम किया जा सकेगा. ये टेन्ट अंदर से काफ़ी स्पेशियस भी है.  

इस टेन्ट का वज़न सिर्फ़ 30 किलोग्राम है और इसमें एक बार में 10 जवान रह सकते हैं. 

लद्दाख में भारतीय सेना हर साल, गर्माहट के लिए 1 लाख किलोलीटर फ़्यूल इस्तेमाल करती है. इससे 3 लाख टन कार्बन डायऑक्साइड रिलीज़ होता है.  

सोशल मीडिया की प्रतिक्रिया-