धीरे-धीरे ट्रांसजेंडर समुदाय के प्रति लोगों की सोच-समझ बदलने लगी है. ट्रांसजेंडर अब सिर्फ़ घर-घर जाकर नाच-गाना करने तक सीमित नहीं रहे. वो भी अब हम सब की तरह करियर और जीवन पर फ़ोकस कर रहे हैं. हर दिन देश के किसी हिस्से या कोने से ट्रांसजेंडर्स को लेकर प्रेरित करने वाली ख़बर सामने आती है.

Transgender success story
Source: newindianexpress

प्रेरित करने वाली लेटेस्ट न्यूज़ कोच्चि की है, जहां 36 साल की ट्रांसजेंडर ने Vending स्टॉल लगा कर अपना सपना पूरा किया. ये कहानी है Adhidhi Achyuth की, जो कि अपने जेंडर के कारण जॉब पाने के लिये स्ट्रगल कर रही थी. जॉब नहीं मिली, लेकिन वो Entrepreneur ज़रूर बन गईं. ख़बर है कि CMFRI (Central Marine Fisheries Research Institute) ने उन्हें मछली बेचने के आधुनिक Vending स्टाल लगाने की सुविधा मुहैया कराई है.

adhidhi achyuth
Source: planettransgender

बीते सोमवार को Vennala मार्केट में एक्टर्स Harisree Ashokan और Molly Kannamally द्वारा Achyuth के स्टॉल का उद्घाटन किया गया. स्टॉल पर जीवित मछली बेचने के साथ-साथ वो ग्राहकों को क्लीन और पैकेड मछली होम डिलीवरी भी दे सकती हैं. हांलाकि, उसके लिये ग्राहकों को पहले से बुकिंग करानी होगी.  

Kochi adhidhi turns entrepreneur

रिपोर्ट के अनुसार, सेंट्रल गर्वमेंट की SCSP स्कीम के तहत CMFRI ने Achyuth को स्टॉल सेटअप करने के लिये पांच लाख रुपयों की मदद दी थी. कहा जा रहा है कि स्टॉल में मछलियों को जीवित और फ़्रेश रखने की सुविधा है. इसके अलावा कूलर, बिलिंग मशीन, डीप फ़्रीज़र और फ़िश डिस्प्ले भी है. 

Fish
Source: depositphotos

CMFRI के निदेशक ए. गोपालकृष्णन का कहना है कि संस्थान का मक़सद है कि भविष्य में मछली पालन को तकनीकी मार्गदर्शन देकर ट्रांसजेंडर सदस्यों को सशक्त बनाया जाये.  

Tourism
Source: tripadvisor

ख़ुशी होती है ये जानकर कि कोई राज्य ट्रांसजेंडर समुदाय के लिए इतनी बेहतरीन सोच रखता है. अगर हर राज्य ने ऐसा सोचना शुरू कर दिया तो एक दिन ऐसा आयेगा जब इस समाज में इंसान को जेंडर नहीं, बल्कि इंसान के तौर पर देखा और समझा जायेगा.