Difference Between NDA And CDS: देश के युवाओं के लिए भारतीय सेना में शामिल होने का सुनहरा अवसर है. 18 मई से NDA-CDS एग्जाम की रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया भी शुरू हो गई है. भारत में हर साल भारतीय थल सेना (Indian Army), भारतीय वायु सेना (Indian Air Force) और भारतीय नौसेना (Indian Navy) में अफ़सर बनने के लिए 2 प्रमुख परीक्षाएं होती हैं. इनमें पहली राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (National Defence Academy- NDA) और दूसरी संयुक्त रक्षा सेवा (Combined Defence Services- CDS) है. इन दोनों ही परीक्षाओं को पास करने वाले उम्मीदवारों को भारतीय सेना में अफ़सर बनने का मौका मिलता हैं.

ये भी पढ़ें: जानिए IAS, IPS, IRS ऑफ़िसर्स में से सबसे ज़्यादा सैलरी किसकी होती है, मिलते हैं कौन-कौन से भत्ते?

Indian Army
Source: indiatoday

आज हम आपको NDA vs CDS परीक्षाओं के बीच क्या अंतर है वही समझने जा रहे हैं-

एनडीए क्या है? (What is NDA)

एनडीए का मतलब राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (National Defence Academy- NDA) से है. भारत की तीनों सेनाओं थल सेना, वायु सेना और नौसेना में शामिल होने के लिए ही एनडीए (NDA) की परीक्षा पास करनी होती है. एग्जाम क्लियर करने के बाद आवेदकों को एनडीए में भर्ती होने वाले का मौका मिलता है. इसकी परीक्षा साल में 2 बार आयोजित की जाती है. परीक्षा में सफ़ल होने वाले उम्मीदवारों की ट्रेनिंग इंडियन मिलिट्री एकेडमी (IMA) में होती है.

What is NDA
Source: https://scroll.in/announcements/1000625/indian-army-women-soldier-gd-recruitment-2021-application-ends-today-for-100-vacancies

एनडीए के लिए योग्यता (Eligibility for NDA) 

एनडीए की परीक्षा में बैठने के लिए उम्मीदवार का 12वीं कक्षा में उत्तीर्ण या 12वीं की परीक्षा दे चुके अभ्यर्थी भी आवेदन कर सकते हैं. थल सेना के लिए 12वीं में किसी भी सबजेक्ट में पास हो. एयरफोर्स और नेवी के लिए 12वीं क्लास में फिजिक्स केमेस्ट्री और मैथ्स होना ज़रूरी है. उम्मीदवार की उम्र 16 से 19 वर्ष के बीच होनी चाहिए. एनडीए की परीक्षा में शामिल होने के लिए पुरुष और महिला उम्मीदवारों को राष्ट्रीयता, आयु सीमा, शैक्षिक योग्यता, शारीरिक और चिकित्सा मानकों को पूरा करना होगा.

NDA vs CDS

Eligibility for NDA
Source: indiatvnews

सीडीएस क्या है? (What is CDS) 

सीडीएस का मतलब संयुक्त रक्षा सेवा (Combined Defence Services- CDS) से है. ये परीक्षा यूपीएससी (UPSC) कराती है. सीडीएस की परीक्षा भी साल में दो बार होती है. इस परीक्षा के माध्यम से कोई भी नौजवान भारत की तीनों सेनाओं में अधिकारी बन सकता है. चयनित अभ्यर्थियों को इंटरव्यू के बाद नियुक्ति दी जाती है. छोटी उम्र में बड़ा सैन्य अधिकारी बनना हो तो सीडीएस बेहतर विकल्प है. परीक्षा में सफ़ल होने वाले उम्मीदवारों की ट्रेनिंग ट्रेनिंग इंडियन मिलिट्री एकेडमी (IMA) में होती है. 

NDA vs CDS

What is CDS
Source: shauryabharat

सीडीएस के लिए योग्यता (Eligibility for CDS) 

सीडीएस परीक्षा के लिए उम्मीदवार का किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट हो न आवश्यक है. ग्रेजुएशन फ़ाइनल ईयर की परीक्षा दे चुके छात्र भी आवेदन कर सकते हैं. अगर आप भारतीय नौसेना में जाना चाहते हैं तो फ़िजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स के साथ बीएससी या फिर इंजीनियरिंग की डिग्री होनी चाहिए. भारतीय वायु सेना में जाना चाहते हैं कि 12वीं में मैथ्स और फ़िजिक्स ज़रूरी है, ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए या फिर इंजीनियरिंग की डिग्री होनी आवश्यक है.

Eligibility for CDS
Source: economictimes

एनडीए और सीडीएस में मुख्य अंतर (Difference Between NDA And CDS)

एनडीए में परीक्षा के लिए आयु सीमा अधिकतम 19 साल है, जबकि सीडीएस के लिए अधिकतम 25 साल है. एनडीए की परीक्षा के लिए 12वीं ज़रूरी है. वहीं सीडीएस के लिए ग्रेजुएशन की डिग्री आवश्यक है. इन दोनों ही परीक्षाओं के लिए लिखित और इंटरव्यू होता है. एनडीए की पढ़ाई और ट्रेनिंग 4 से 5 साल की होती है. जबकि सीडीएस की पढ़ाई और ट्रेनिंग 18 महीने से लेकर 74 महीने तक की होती है.

NDA vs CDS

Indian Army
Source: thehindu

ये भी पढ़ें: जानिए IAS और IPS समेत तमाम बड़े अधिकारियों की कुर्सियों पर सफ़ेद तौलिया क्यों रखा होता है  

जय हिन्द!