Padma Awards 2022: 73वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर भारत सरकार ने पद्म पुरस्कारों(Padma Awards) की घोषणा की. इसमें एक नाम देसी कोविड-19 वैक्सीन बनाने वाले डॉक्टर का भी नाम शामिल हैं. ये हैं भारत बायोटेक(Bharat Biotech) के चेयरमैन डॉक्टर कृष्णा एल्ला(Krishna Ella). इन्हें केंद्र सरकार ने देश के तीसरे सबसे सर्वोच्च सम्मान पद्म भूषण से सम्मानित करने का फ़ैसला किया है. 

कौन हैं डॉ. कृष्णा एल्ला और क्या है इनका अभूतपूर्व योगदान चलिए आज आपको विस्तार से बताते हैं.   

ये भी पढ़ें: वैक्सीन कैसे बनती है, कैसे इसे स्टोर किया जाता है? जैसे तमाम सवालों के जवाब लेकर आए हैं हम

padma bhushan award
Source: india

डॉ.कृष्णा एल्ला(Dr. Krishna Ella) देश के प्रतिष्ठित वैज्ञानिक और देश की अग्रणी टीका बनाने वाले कंपनी भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड(Bharat Biotech International Limited) के चेयरमैन हैं. इन्हें कोरोना महामारी से लड़ने के लिए स्वदेशी टीके कोवैक्सीन(Covaxin) की खोज की थी. इसके चलते देश और दुनिया के लाखों लोगों को इस महामारी के कहर से बचाया जा सका.  इनके इस अभूतपूर्व योगदान के लिए ही इन्हें पद्म भूषण से सम्मानित किया जाएगा.

ये भी पढ़ें: स्टीफ़न हॉकिंग: जिसके पास थे केवल 2 साल, पर डॉक्टर्स को ग़लत साबित कर वो बने महान वैज्ञानिक 

कौन हैं डॉ. कृष्णा एल्ला

 krishna-ella
Source: forbesindia

डॉ. एल्ला तमिलनाडु के तिरुत्तनी के रहने वाले हैं. अणु जैविकी(Molecular Biology) शोध वैज्ञानिक डॉ. एल्ला ने अमेरिका की University Of Wisconsin-Madison से Ph.D की है. इसके बाद इन्होंने Medical University of South Carolina में रिसर्च फ़ैकल्टी काम करना शुरू कर दिया था.

मां के कहने पर आए थे स्वदेश 

krishna-ella covaxin
Source: rediff

मगर मां के समझाने के बाद ये स्वदेश वापस लौट आए थे. तब इनकी मां ने कहा था कि-'बेटा तुम्हारा पेट मैं भर लूंगी, जो मन हो वही करना, हमें ज़्यादा पैसे की ज़रूरत नहीं है.' इस बात का ज़िक्र इन्होंने अपने एक इंटरव्यू में किया था. इन्होंने अपनी पत्नी सुचित्रा एल्ला जो भारत बायोटेक की को-फ़ाउंडर भी हैं, उनके साथ मिलकर 1996 इस कंपनी की नींव रखी थी. इन्हें भी पद्म भूषण से सम्मानित किया जाएगा. इनकी कंपनी विभिन्न प्रकार की बीमारियों पर शोध पर उनके टीके और दवा बनाने में आगे हैं. हैदराबाद बेस्ड इनकी कंपनी के नाम पर 145 से अधिक दवाओं के पेटेंट हैं.   

बनाते हैं बीमारियों के किफ़ायती टीके

bharat biotech
Source: bharatbiotech

इनकी कंपनी ने 400 करोड़ टीके पूरी दुनिया में सप्लाई किए हैं. इनकी कंपनी में 1600 कर्मचारी काम करते हैं. कोवैक्सीन से पहले इनकी कंपनी ने Revac-B mcf Hepatitis BSwine Flu, Zika Virus के भी टीके बनाए हैं. कंपनी के मुताबिक, ये दुनिया के सबसे सस्ते हेपेटाइटिस के टीके बनाते हैं. 

इन्हें कई अवॉर्ड भी मिल चुके हैं  

bharat biotech Dr. Krishna Ella
Source: indianexpress

डॉ. कृष्णा एल्ला को कई अवॉर्ड भी मिल चुके हैं. जैसे  हेल्थकेयर इंडस्ट्री अवार्ड(ET Now Special Recognition), बेस्ट एंटरप्रेन्योर ऑफ़ द ईयर अवार्ड, मैरिको इनोवेशन अवार्ड और University Of Southern California- Asia-Pacific Leadership Award.  

कई सरकारी समितियों के सदस्य भी रह चुके हैं  

padma bhushan awardee Dr. Krishna Ella
Source: thehindu

डॉ. एल्ला केंद्रीय मंत्रिमंडल की वैज्ञानिक सलाहकार समिति के सदस्य रह चुके हैं. वो Research Council For CSIR National Laboratories के सदस्य हैं. वो कई सरकारी समितियों का हिस्सा बन देश में वैज्ञानिक शिक्षा के प्रसार को नई दिशा देने में लगे हुए हैं.