एक 20 वर्षीय भारतीय महिला की बंदूक की नोक पर पाकिस्तान में ज़बरदस्ती शादी करा दी गई है. उसने इस्लामाबाद में मौजूद भारतीय उच्च आयुक्त के पास दरख़्वास्त भेजी है कि उन्हें जल्द-से-जल्द भारत वापस भेजा जाए.

भारतीय नागरिक, उज़मा ने अपने पाकिस्तानी पति ताहिर अली पर इस्लामाबाद कोर्ट में हिंसा और ज़ोर-ज़बरदस्ती करने का आरोप लगाया है. वो मजिस्ट्रेट के सामने भी अपना बयान दर्ज करा चुकी हैं. मीडिया को दिए बयान में उज़मा ने कहा कि 'पाकिस्तान आने के बाद भारत जाने के लिए उसके सभी ज़रूरी कागज़ात छीन लिए गए और बंदूक की नोक पर अली से शादी करा दी गई'.

फ़िलहाल, उज़मा ने इस्लामाबाद में मौजूद भारतीय उच्चायोग में शरण ले रखी है. रिपोर्ट के अनुसार, उज़मा का पति वहां उससे मिलने भी आया था, लेकिन कोर्ट के सामने उपस्थित नहीं हुआ.

इस ख़बर का एक दूसरा पक्ष भी है. उसके अनुसार इस कहानी की शुरूआत मलेशिया में हुई. उज़मा और अली मलेशिया में मिले और दोनों में प्यार हो गया. दोनों ने 3 मई को पाकिस्तान जा कर शादी कर ली. शादी के बाद उज़मा को अली की सच्चाई मालूम हुई. अली पहले से ही शादीशुदा था और उसके 4 बच्चे थे. इससे आहत हो कर उज़मा अपने पति पर ऐसे आरोप लगा रही है.

Source: news18

Feature Image: aliexpress