कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार ने पंजाब में लड़कियों के लिए नर्सरी से लेकर PhD तक मुफ़्त शिक्षा की घोषणा की है. इतना ही नहीं, सभी सरकारी स्कूलों में अगले सत्र से लड़कियों को मुफ़्त पाठ्य पुस्तकें भी दी जायेंगी.

ये पुस्तकें छात्रों को ऑनलाइन भी मुहैया करायी जायेंगी, ताकि उन्हें मुफ़्त में डाउनलोड कर के पढ़ा जा सके.

अमरिंदर सिंह ने कहा कि अगले साल से सरकारी स्कूलों में नर्सरी और LKG की कक्षाएं दोबारा शुरू की जायेंगी. अपने एक और चुनावी वादे को पूरा करते हुए उन्होंने 13,000 प्राथमिक विद्यालयों और 48 सरकारी कॉलेजों में मुफ़्त वाई-फ़ाई की सुविधा देने की घोषणा भी कर दी है.
Source: Starssunfolded

सेन्सस 2011 के अनुसार, पंजाब में शिक्षा दर 75.84% है, जो कि भारत की औसत शिक्षा दर, 73.0% से ज़्यादा है. पंजाब में शिक्षित लोगों की संख्या 1,87,07,137 है, जिनमें से 80.44% परुष हैं और 70.73% महिलाएं. ये कदम महिलाओं में शिक्षा दर को बढ़ाने में यकीनन कारगर साबित होगा.

Source: Indiatimes