Nobel Prize विजेता कैलाश सत्यार्थी के घर चोरी का मामला सामने आया है, लेकिन इस चोरी की सबसे अजीब बात ये है कि चोरों ने सामान के साथ उनका Nobel Prize तक चोरी कर लिया. कैलाश सत्यार्थी अभी अमेरिका में हैं, लेकिन उनके घर वालों ने बताया कि घर कुछ ज़रूरी दस्तावेज़ और कीमती सामान भी गायब हैं.

Source: aajtak

कैलाश सत्यार्थी जी का निवास दिल्ली के कैलाश कॉलोनी में है. सोमवार की रात उनके घर पर कोई नही था. बस इस बात का फ़ायदा उठाते हुए चोरों ने उनके घर का ताला तोड़ा और कीमती सामान पर अपना हाथ साफ़ कर लिया. इतना ही नहीं, जाते-जाते चोर कैलाश सत्यार्थी के Nobel Prize की रेप्लिका भी अपने साथ ले गए.

कैलाश सत्यार्थी को ये पुरुस्कार बाल अधिकार के लिए आवाज़ उठाने के लिए साल 2014 में मिला था.

Source: indiatoday

दरअसल Nobel Prize के तौर पर मिलने वाला मिमेंटो एक रेप्लिका होती है, जिसकी असल कॉपी राष्ट्रपति भवन में रहती है. ये कोई पहला मामला नहीं है, जब किसी की ये रेप्लिका चोरी हुई हो. इससे पहले रविंद्र नाथ टैगोर के Nobel Prize रेप्लिका पर भी चोरों ने हाथ साफ़ किया है. इसके लिए बंगाल सरकार ने जांच CBI को सौंपी थी.