नोटबंदी के बाद देशवासियों की शिकायत थी कि एटीएम और बैंकों में पैसे नहीं रहते. धीरे-धीरे ये समस्या भी दूर हो गई. लेकिन इसके बाद अब एक नई समस्या पैदा हो रही है. आपने सुना होगा कि हाल ही में दिल्ली के संगम विहार क्षेत्र के एटीएम से नकली नोट निकले. ये नोट दरअसल, वो नोट थे, जो चूरन के साथ फ्री आते हैं. बच्चों के मनोरंजन के लिए बनाए जाने वाले इन नोटों को एटीएम में डाला जा रहा है. कल शाम को मेरठ में पंजाब नेशनल बैंक के एक एटीएम से भी ऐसा ही एक नोट निकला, जिस पर चिल्ड्रेन बैंक ऑफ़ इंडिया लिखा था और 2000 रुपये की जगह दो हज़ार नंबर लिखा था.

एक समाचारपत्र के अनुसार, सुनील दत्त शर्मा ने विगत 24 फरवरी को PNB के एटीएम से पैसे निकाले थे. अब उन्होंने उन नकली नोटों को मेरठ की PNB ब्रांच में जमा करवा दिया है. जहां इस ख़बर से बैंक के अधिकारी सकते में आ गये हैं, वहीं दूसरी ओर सर्किल हेड समीर बाजपाई इस बात से काफ़ी हैरान हैं और उनका कहना है कि उनके पास हर उस एटीएम के पल-पल की कवरेज है और उनके पास इससे पहले कोई जाली नोटों के निकलने की शिकायत नहीं आई है.

Source: Inkhabar

आपको बता दें कि दिल्ली वाले केस में एक आदमी को गिरफ़्तार भी किया गया था. लेकिन अब तक कुछ ख़ास पता नहीं चल पाया. दिल्ली के संगम विहार एरिया में SBI के एटीएम से दो हज़ार रुपये के चिल्ड्रेन बैंक वाले चार नोट निकले थे. हालांकि, अभी तक PNB केस में कोई शिकायत दर्ज नहीं करवाई गई है.

Feature Image: Inkhabar