Source: india

पेट्रोल और डीज़ल के दाम रोज़ाना घटते-बढ़ते रहते हैं. कभी ज़्यादा तो कभी कम. लेकिन अब तो सबको इसकी आदत हो गई है. लेकिन दाम कम हों या ज़्यादा पेट्रोल और डीज़ल के पम्पों पर गाड़ियों की लाइन्स में कोई कमी नहीं आयी है. पेट्रोल की लाइन में लगना भी एक बहुत बड़ा काम होता है. मगर अब आपको पेट्रोल और डीज़ल के लिए लाइन में नहीं लगना पड़ेगा, बल्कि घर बैठे-बैठे ही आप बाकी सामानों की तरह ही एक क्लिक करके पेट्रोल और डीज़ल आर्डर कर सकते हैं. अब सरकार जल्द ही इसकी भी होम डिलीवरी हो सकेगी.

Source: scroll

बीते बुधवार पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि कि अब पेट्रोल, डीज़ल और रसोई गैस ऑनलाइन सेल के ज़रिये खरीदे जा सकेंगे.

धर्मेंद्र प्रधान ने ट्वीट करके इस बात का ऐलान किया और कहा कि टेलीकॉम और आईटी क्षेत्र में आई क्रांति ने हर फील्ड में कारोबार के तरीकों पर बहुत ज़्यादा सकारात्मक प्रभाव डाला है और इससे लोगों को फ़ायदा ही हुआ है. अप्रैल 2017 में उन्होंने इस बात का अंदेशा दिया था कि जल्द ही सरकार ई-कॉमर्स वेबसाइट के द्वारा पेट्रोल-डीज़ल बेचेगी.

उन्होंने ये भी कहा कि सरकार ने ये फैसला कैशलेस ट्रांज़ैक्शन को बढ़ावा देने के लिए लिया है, इसके अलावा पेट्रोल-डीजल की ऑनलाइन डिलीवरी होने से लोगों को सहूलियत तो मिलेगी गई, साथ ही पेट्रोल पंपों पर लगने वाली भीड़ में भी कमी आएगी. इसके साथ ही धर्मेंद्र प्रधान ने ये भी कहा कि हमारे देश में हर दिन लगभग 35 करोड़ लोग पेट्रोल पंपों पर जाते हैं और एक साल में 2500 करोड़ रुपए का लेनदेन पेट्रोल पंपों पर होता है.

Source: indianexpress