हमारे देश में क्रिकेट सिर्फ़ एक खेल नहीं हैं. जब भी इंडिया का कोई मैच होता है, पूरा देश ठहर सा जाता है. आपने भी मेरी तरह खूब मैच देखे होंगे, पर आपने एक बात पर गौर किया कि जब भी कोई खिलाड़ी जीरो रन पर आउट होता है, तो उसके लिए 'Duck' वर्ड ही क्यों यूज़ किया जाता है?

Source: intoday

क्रिकेट के खेल में 'Duck' वर्ड कहां से आया ये बताने से पहले हम आपको ये बतातें है, कि क्रिकेट में कितने टाइप के 'Duck' यूज़ किये जाते हैं.

  • कोई बल्लेबाज़ अगर अपनी पहली ही बॉल पर आउट हो जाता है, तो उसके लिए 'Golden Duck' वर्ड काम में लिया जाता है.
  • अगर कोई बल्लेबाज़ अपनी दूसरी बॉल पर आउट होता है, तो उसे 'Silver Duck' कहा जाता है. तीसरी बॉल पर आउट होने वाले को 'Bronze Duck' कहते हैं.
  • कोई बल्लेबाज़ अगर बिना किसी बॉल का सामना किए, नॉन स्ट्राइकर एंड पर रन आउट या फिर वाइड बॉल पर स्टंपड आउट हो जाए, तो उसे 'Diamond Duck' कहा जाता है.
Source: crictale
  • मैच की पहली ही बॉल पर कोई बल्लेबाज़ जीरो पर आउट हो जाए, तो उसे 'Palladium Duck' कहते हैं.

अब सवाल यह उठता है कि क्रिकेट में इतने बत्तख (Duck) आए कहां से, जबकि क्रिकेट जमीन पर खेला जाता है औ बत्तख पानी में रहता है.

आज आपके लिए हमने इसके पीछे का राज़ ढूंढ निकाला है. क्रिकेट में पहले ज़ीरो रन पर आउट होने वाले के लिए 'Duck’s Egg Out' वर्ड काम में लिया जाता था. जो वक़्त के साथ 'Duck' में बदल गया. ज़ीरो रन पर आउट होने वाले के लिए 'Duck' वर्ड काम में लेने की वजह जीरो '0' का बत्तख के अंडे जैसे आकार की तरह दिखना है.

Source: topyaps

1886 में एक मैच में 'Prince of Wales' बिना कोई रन बनाए ज़ीरो रन पर आउट हो गये थे, अगले दिन एक स्थानीय अख़बार में हैडलाइन दी हुई थी...'Prince Retired to The Royal Pavilion On a Duck’s Egg'. उसके बाद यह वर्ड कई और अख़बारों ने यूज़ किया और यह वर्ड काफ़ी लोकप्रिय हो गया. तब से यह आज तक चला आ रहा है.

क्रिकेट की यह जानकारी आप को रोचक लगी तो, इस आर्टिकल को अपने दोस्तों से शेयर करना मत भूलिएगा

Source: topyaps