अमेरिका की समस्याओं के हिसाब से उनके पास सुपरमैन, स्पाइडरमैन और बैटमैन हैं, लेकिन भारत की जो समस्याएं हैं, उस लिहाज़ से यहां पैडमैन की ज़्यादा ज़रूरत है. इसी सोच के साथ बनी है फ़िल्म, 'Padman'. भारत में पीरियड्स और उससे जुड़ी छुआ-छूत और बीमारियों को उजागर करते हुए अक्ष्य एक बार फिर एक ज़रूरी मुद्दे को उठा रहे हैं. इससे पहले भी अक्षय ने ग्रामीण इलाकों में शौचालय की समस्यों को उजागर करते हुए 'टॉयलेट- एक प्रेम कथा' बनाई थी.

ये फ़िल्म एक रियल लाइफ़ हीरो Arunachalam Muruganantham की ज़िन्दगी पर बनी है, जिसने Menstrual Hygiene के लिए लड़ते हुए ख़ुद पैड बनाने की शुरुआत की थी. Muruganantham ने पीरियड्स से होने वाली परेशानियों और बीमारियों की जागरुता फ़ैलाई और सस्ते पैड्स बनाने की शुरुआत की, जिसकी कीमत बाज़ार में बिक रहे ब्रांडेड पैड से एक तिहाई थी. 2014 में इस व्यत्कि को TIME मैगज़ीन ने दुनिया के 100 सबसे प्रभावशाली व्यक्तियों की सूची में रखा था, इसके बाद 2016 में Muruganantham को भारत सरकार द्वारा पद्म श्री पुरुस्कार से भी नवाज़ा गया.

Source- ET

फ़िल्म के ट्रेलर में अक्षय एक क्रांतीकारी व्यक्ति की तरह दिख रहे हैं, जो अपनी सोच और पहल पर पागलों की तरह जुटा हुआ है. पैडमैन की इस मुहीम में सोनम कपूर और राधिका आप्टे भी साथ हैं.

फिल्म 26 जनवरी 2018 को रिलीज़ होगी, तब तक ट्रेलर देखिए.

Source- Sony Pictures India