जब से पहलाज निहलानी ने CBFC के चेयरमैन की कुर्सी संभाली है, तब से लेकर अब तक वो अलग-अलग कारणों से सुर्खियों में रहे हैं.

देश को संस्कारी बनाने का अकेले ही ठेका ले चुके निहलानी ने इम्तियाज़ अली की अगली फ़िल्म 'जब हैरी मेट सेजल' के ट्रेलर को टेलीविज़न पर रिलीज़ करने की अनुमति नहीं दी थी. कारण भी बेहद ही बचकाना, ट्रेलर में INTERCOURSE शब्द का प्रयोग.

Source: Skj Bollywood News

Mirror Now को ख़ुलेआम दी एक चुनौति में निहलानी साहब ने इस शब्द के Favour में 1 लाख वोट्स लाने को कहा. Mirror Now ने भी ट्विटर पर वोटिंग लाइन्स चालू कर दीं.

हिन्दुस्तानियों ने भी दिल खोलकर वोट किए और Mirror Now ने 1 लाख वोट भी जुटा लिए.

जब Mirror Now ने अपने एक रिपोर्टर को निहलानी से उनकी राय जानने के लिए भेजा, तो बाबू कैंची वाले उर्फ़ पहलाज निहलानी के चेहरे के Expressions देखने लायक थे. Mirror Now द्वारा जारी किए गए वीडियो में पहलाज निहलानी की ख़ीज साफ़ तौर पर नज़र आ रही है. निहलानी ने यूं चुप्पी साध रखी थी मानो मुंह में दही जम गई हो.

बार-बार सवाल करने पर भी निहलानी ने कोई जवाब नहीं दिया. भगवान उन्हें सद्बुद्धि दें या फिर एक जीव विज्ञान की किताब. क्योंकि शायद वो भूल गए हैं कि इसी INTERCOURSE Process से वो पैदा हुए हैं.

Source: TOI

Feature Image Source: The Quint