पाकिस्तान से आए दिन ऐसी चौंकाने वाली ख़बरें आती रहती हैं, जो वहां के प्रशासन की खस्ताहाली दिखाती हैं. बीते दिनों खबर आई थी कि दुर्भाग्य को दूर करने के लिए प्लेन के उड़ान भरने से पहले, वहां एक बकरी की बलि दी गयी थी. अब खबर आयी है कि ज़्यादा बुकिंग होने के कारण पाकिस्तान के एक जहाज़ ने यात्रियों को खड़ा रख कर उड़ान भरी थी.

पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइन्स (PIA) के सात यात्रियों को खड़े रह कर प्लेन में यात्रा करने को कहा गया. ये फ्लाईट पूरे तीन घंटे की थी, इस दौरान सातों यात्री खड़े रहे.

इस जहाज़ में 409 लोगों के बैठने की जगह है, पर 416 यात्रियों को कराची से मदीना ले जाया गया. PIA का कहना है की वो इस अजीबोगरीब मामले की जांच कर रहे हैं. सीनियर एयर होस्टेस हिना तुरब का कहना है कि उन्होंने कैप्टेन को ज़्यादा यात्री होने की जानकारी दी थी. इसके जवाब में उससे कहा गया कि यात्रियों को एडजस्ट करने को कहें.

कैप्टेन आदिल ने कहा कि जब वो टेक-ऑफ़ के बाद कॉकपिट से बाहर आये, तो एयर-होस्टेस ने उन्हें ज़्यादा यात्री होने की बात बतायी. इसके बाद वो कुछ नहीं कर सकते थे. जहाज़ के दरवाज़े बंद किये जाने से पहले उन्हें इस बात की जानकारी नहीं थी. इसके बाद उन्हें तत्काल लैंडिंग करनी पड़ती, जिसमें ईंधन ख़राब होता. उनके अनुसार, ऐसा करना एयरलाइन के हक में नहीं था, इसलिए उन्होंने उड़ान जारी रखी. गौरतलब है कि PIA हर महीने 5.6 बिलियन के नुक्सान में चल रही है.

ध्यान देने वाली बात ये है कि इस सब के बीच यात्रियों की सुरक्षा के साथ भी खिलवाड़ किया गया है. किसी आपताकाल की स्थिति में इन यात्रियों को ऑक्सीज़न सप्लाई भी नहीं मिल पाती.

ऑफिशियल प्रोसीजर के अनुसार, ऐसी स्थिति में जहाज़ को वापस टर्मिनल पर ले आया जाता है. ये वाकया दिखाता है कि PIA अपने ही प्रोटोकॉल्स के प्रति गंभीर नहीं है.

Source: Topyaps