आपने बॉलीवुड और हॉलीवुड की कई फ़िल्मों में ऐसे किरदारों को देखा होगा, जिनके पास कुछ अजीबो-गरीब शक्तियां होती हैं. वे इन शक्तियों के माध्यम से या तो समाज की भलाई के लिए कार्य करते हैं या फ़िर उसमें बुराई फैलाने के लिए. यहां मैं उन सुपर हीरोज़ की बात नहीं कर रहा जिन्हें आप हवा में उड़ते देखते हैं या फ़िर कई लोगों से अकेले लड़ते.

ये लोग दिखने में आम इंसानों की तरह ही होते हैं, लेकिन इनके पास ऐसी शक्तियां होती हैं, जिनका इस्तेमाल करके ये कई अदभुत कारनामों को अंजाम देते हैं. ये लोग दावा करते हैं कि वे अपने दिमाग के एक हिस्से का प्रयोग करके उन कार्यों को करते हैं जिन्हें आम इंसान चमत्कार समझते हैं. अब आप सोच रहे होंगे क्या इस तरह के चमत्कार करना वास्तविक जीवन में संभव है? इसका जवाब देने से पहले मैं आपसे पूछना चाहूंगा क्या आपने अपने आस-पास ऐसे लोगों को देखा है, जो आत्माओं से बात करने, हवा में उड़ने या फ़िर आप के मन की बातों को जानने का दावा करते हैं? अगर हां, तो आप इसका जवाब बेहतर तरीके से जानते होंगे. खैर में आपको बता दूं कि विज्ञान अब तक इस तरह की शक्तियों के पीछे का राज़ नहीं पता लगा पाया है.

1. Bi-location – एक ही समय में दो स्थानों पर मौजूद रहना चमत्कार है?

ज़रा सोचिए, अगर आप एक ही समय में दो स्थानों पर मौजूद रहेंगे तो आपके लिए ज़िंदगी कितनी आसान हो जाएगी? जी हां, दुनिया में ऐसे लोग हुए हैं जिनके पास इस तरह की अद्भुत शक्ति थी. इनमें से एक व्लादिमीर लेनिन थे, और दूसरे Aleister Crowley. दोनों से जुड़े कुछ ऐसे दस्तावेज़ मिले हैं, जिनसे ये बात समाने आती है कि वे एक ही समय पर अलग-अलग जगहों पर मौजूद थे. इसमें दिलचस्प बात ये है कि ये लोग खुद ही नहीं जानते थे कि उनके भीतर कोई ऐसी शक्ति भी मौजूद है. खैर, इस बात से जुड़े कोई वैज्ञानिक प्रमाण सामने नहीं आएं हैं.

2. Telepathy – बिना किसी प्रकार के गैजेट का प्रयोग किए आप किसी से भी संपर्क साध सकते थे.

इस तरह की असाधारण शक्तियों के बारे में आपने उपन्यासों और फ़िल्मों में ही देखा और पढ़ा होगा. लेकिन ऐसी शक्ति वॉशिंगटन के Irving Bishop और Stuart Cumberland में हैं. खैर, उन्होंने इस बात से इंकार किया है कि उनके पास इस तरह की कोई असाधारण शक्ति भी हैं. उनका कहना है कि हम लोगों के हाव-भाव को देख कर ही उनसे जुड़ी बातें जान लेते हैं. हालांकि, वैज्ञानिक Telepathy को विज्ञान का हिस्सा नहीं मानते. लेकिन 2014 में Dr Michel Berg और Dr Alejandro Riera नाम के दो वैज्ञानिकों द्वारा किए गए अध्ययन ने इस क्षेत्र में हलचल पैदा कर दी थी.

3. Clairvoyance – Extra-Sensory Perception के तहत व्यक्ति इतिहास और भविष्य में झांक सकता है.

इस क्षमता के तहत व्यक्ति एक समय में भविष्य और इतिहास से जुड़ी कई घटनाओं को देख सकता है, जिसे Clairvoyance कहते हैं. वैसे आम इंसनों के लिए तो ये किसी चमत्कार से कम नहीं था. विक्टर रेस वो नाम है जिसने सबसे पहले (1784) Clairvoyant से लोगों को अवगत कराया था. ये व्यक्ति एक किसान था, लेकिन इसने बाद में अपनी शक्ति का इस्तेमाल करके लोगों की परेशानियों और बीमारियों को दूर करने का कार्य शुरू कर दिया. कई संगठनों ने ये दावा किया था कि अगर कोई इससे जुड़े तथ्यों को सामने लागएगा तो वे उसे काफ़ी पैसा देंगे, लेकिन कोई भी उससे जुड़े तथ्यों को सामने लाने में कामयाब नहीं रहा. खैर आज भी ऐसे लोग मौजूद है जो भविष्य और इतिहास को देखने का दावा करते हैं.

4. Telekinesis – इस क्षमता के तहत कोई व्यक्ति बिना किसी वस्तु को छुए उसे हिला सकता है.

फ़िल्म ‘क्रिश’ में आपने ‘काल’ को सिर्फ़ अपनी उंगली का इस्तेमाल करके चीज़ों को इधर से उधर करते देखा होगा, इस क्षमता को ही Telekinesis कहते हैं. 1984 में अमेरिकी सेना ने इस उम्मीद के साथ इस विषय पर रिसर्च की कि वे इससे सैना की ताकत बढ़ा सकते हैं, लेकिन उन्हें इस रिसर्च से किसी प्रकार की मदद नहीं मिली. हालांकि 130 साल के अनुसंधान के बाद PEAR लेब का वैज्ञानिक समुदाय इस शक्ति के होने पर विश्वास करता है.

5. Automatic writing – किसी चीज़ की जानकारी न होने के बाद भी उसके बारे में लिखने की क्षमता.

इस बात पर विश्वास किया जाता है कि लेखकों के दिमाग में कुछ बातें अपने आप ही आ जाती है, जिन्हें वो लिख देता है. और कुछ बातें परलोकिक शक्तियां उससे लिखवाती हैं. अगर आप इस बात को बेहतर तरीके से समझना चाहते हैं तो आप Planchette और Ouija Board के बारे में पढ़ सकते हैं. Sherlock Holmes के निर्माता Sir Arthur Connan Doyle ने भी इस बात की पुष्टि की थी.

6. Empathy – किसी दूसरे व्यक्ति की भावनाओं को महसूस करना.

आपमें से कई लोग शायद ऐसे होंगे जो अपने करीबी की भावनाओं को खुद-ब-खुद समझ जाते हैं. Edgar Cayce कहते हैं कि इस तरह की क्षमता रखने वाला व्यक्ति वो होते हैं जिन्होंने मौत को बेहद करीब से देखा होता है, या वे कथित लोग जो पुर्नजन्म का दावा करते हैं.

7. Astral Projection – अपने शरीर को त्याग कर दोबारा उसमें वापस आ जाना.

मानने वाले मानते हैं कि आत्मा के पास ही ये शक्ति होती है कि वो शरीर को छोड़ कर उसमें दोबारा वापस आ जाती है. Robert Monoer ने इस तरह के अनुभवों पर एक किताब भी लिखी है, जो बेहद प्रसिद्ध हुई थी. यहां तक उन्होंने इस तरह की रिसर्च करने के लिए Institution भी खोला था, लेकिन विज्ञान इन बातों को सच नहीं मानता.

Source: storypick