भीलवाड़ा राजस्थान के इस प्राइवेट हॉस्पिटल में एक चमत्कार हुआ, जब डॉक्टरों ने एक Parasitic Twin को इस नवजात बच्ची के शरीर से अलग किया. 26 अप्रैल को जन्मी ये बच्ची जब पैदा हुई, तो इसके शरीर से जुदा एक सिर और था, जिसका चेहरा, आंख-नाक-मुंह और बायां हाथ पूरी तरह से बना हुआ था. ये हिस्सा बच्ची के शरीर से जुदा हुआ था. इसके किसान मां-बाप को सोनोग्राफी में पहले से ये तो पता था कि उनके घर दो खुशियां आने वाली हैं, लेकिन उन्होंने इस तरह से कोई Twin कभी नहीं देखा था.

Siamese Twins या Conjoined Twins से अलग Parasitic Twins में एक Twin दूसरे ओअर हावी हो जाता है और उसके शरीर को खाने लगता है. इस बच्ची के शरीर से जुड़ा ये Parasitic Twin उसके शरीर को खा रहा था. ये ऑपरेशन इसलिए भी मुश्किल था, क्योंकि ये ये बच्ची और इसका सिर काफ़ी सारी चीज़ें शेयर कर रहे थे.

इस ऑपरेशन से बच्ची को Septecemia होने का खतरा था. लेकिन डॉक्टर्स ने जल्दी से उसके एक्स-रे, ब्लड टेस्ट कर उसका ऑपरेशन कर दिया. सबसे अच्छी बात ये है कि इसके लिए इन डॉक्टरों ने कोई पैसा नहीं लिया.

Hetropagus Twinning, जिसे आम भाषा में Parasitic Twinning कहा जाता है, वो तब होती है जब गर्भाशय में जुड़वा भ्रूण बनने लगते हैं, लेकिन अलग नहीं हो पाते. इनमें से एक ज़्यादा हावी हो जाता है, वो अपना विकास, दूसरे के शरीर से करता है.

Source: Metro.co.uk