अगर दिल्ली की और करीब से जानना है, तो इसका सबसे अच्छा तरीका है दिल्ली मेट्रो. डीटीसी की बसों का तो अपना स्वैग है ही, पर दिल्ली मेट्रो, दिल्ली मेट्रो है. बात-बात पर Irritate होने वाली महिलाओं से लेकर 'ये आजकल के बच्चे' जैसे डायलॉग मारने वाले अंकल सभी आपको दिल्ली के दिल यानि की दिल्ली मेट्रो में मिल जाएंगे.

इन सबके अलावा दिल्ली मेट्रो में हमेशा चौकन्ना रहना पड़ता है. पता नहीं कब कहां किस बात का वीडियो बना ले. कपल के वीडियोज़ तो आपने भी देखे ही होंगे. कुछ दिनों पहले एक और वीडियो वायरल हुआ. इसमें एक व्यक्ति 2 मेट्रो कोच के कनेक्टिंग पॉइंट पर बैठकर पेशाब करता नज़र आ रहा है.

वीडियो में जो व्यक्ति ऐसा करते हुए नज़र आ रहा है उसने धोती-कुर्ता पहना हुआ है, और उसकी इस हरकत से ये साफ़ है कि वो पहली बार मेट्रो से सफ़र कर रहा था. वीडियो बनाने वाला जाकर उसे रोक सकता था, पर उसने फ़ोन उठाकर वीडियो बनाना ज़्यादा ज़रूरी समझा.

उस व्यक्ति को ऐसा करते हुए कई लोगों ने देखा होगा, पर किसी ने भी उससे ये नहीं कहा कि अगले स्टेशन पर उतरकर वो शौचालय जाता है. दिल्ली मेट्रो के हर स्टेशन पर या स्टेशन से बाहर सुलभ शौचालय बने हुए हैं. मेट्रो की साफ़ सफ़ाई पर भी ज़ोर दिया जाता है.

इस तरह के वीडियो का सामने आना दिल्लीवालों की हार है, दिल्ली मेट्रो की नहीं. जब दिल्लीवाले ही दिल्ली को साफ़ रखने में असमर्थ हैं, तो बाहर वालों से क्या उम्मीद की जाए?

Source: Daily Bhaskar