दुनिया में कई धर्म हैं और हर धर्म में स्वर्ग-नरक की अलग-अलग अवधारणाएं हैं, मान्यताएं हैं. हालांकि, हर धर्म में कर्म के आधार पर ही स्वर्ग और नरक की अवधारणा को परिभाषित किया गया है. लोग मानते हैं कि अच्छे कर्म करने से स्वर्ग की प्राप्ति होती है और बुरे कर्म करने पर नरक की प्राप्ति. धरती पर स्वर्ग की बात तो कहीं नहीं दिखती, लेकिन नरक की बात काफ़ी की जाती है. इसीलिए धरती पर मौजूद कई आश्चर्यजनक चीज़ों को देखकर ऐसा सदियों से माना जाता है कि नरक में जाने का रास्ता इसी धरती पर मौजूद है.

आज हम आपको इस धरती पर मौजूद नरक के दरवाजों के बारे में बताएंगे, जिनके बारे में जानकर आपको भी विश्वास हो जाएगा कि सच में इस धरती पर ही नरक जाने का रास्ता है.

1. नरक के सात द्वार, HELLAM टाउनशिप, पेंसिल्वेनिया

इस द्वार के बारे में कई अफवाहे हैं. कहा जाता है इस शहर के नजदीक जंगल में सात नरक के द्वार हैं, जहां 19वीं सदी में एक पागल की मौत इन्हीं नरक के द्वार पर जाने से जलकर हुई थी. कहानियों के मुताबिक, जो लोग इन सातों द्वार से गुजरते हैं, वो सीधे नरक में पहुंच जाते हैं. हालांकि, अभी सिर्फ़ एक ही द्वार दिखाई देता है.

2. HEKLA, आइसलैंड

ईसाई शास्त्र के मुताबिक, आइसलैंड के दक्षिणी पहाड़ी पर मौजूद ज्वालामुखी को नरक की आग से जोड़ा गया है. मध्य युग में ईसाई भिक्षुओं की कहानियों और लोककथाओं के मुताबिक, उस पहाड़ी पर ज्वालामुखी के चारों ओर चुड़ैलें मौजूद हैं.

3. CHINOKIE JIGOKU, बिप्पू शहर, जापान

कुछ लोगों का मानना है कि जापान के इस शहर में भी लाल रंग के तालाब के रूप में नरक का द्वार मौजूद है. हालांकि, तालाब में प्राकृतिक आयरन ऑक्साइड जमा होने के कारण यह ऐसा हो गया है. इसे खूनी नरक तालाब कहा जाता है. ऐसा माना जाता है कि इस नरक तालाब की रक्षा राक्षसों की मूर्तियों द्वारा होती है. प्राचीन में यह तालाब 78 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया था. कहा ये भी जाता है कि एक समय कैदियों को यातना अथवा सज़ा देने के लिए इसके उबलते हुए पानी में डाल दिया जाता था.

4. जादू की गुफा, नेपल्स, इटली

वर्जिल के एक महाकाव्य में इस गुफा का वर्णन किया गया है कि नरक में जाने के ये 100 रास्ते लगभग 2000 साल पहले के हैं. बाद में 1932 में प्रसिद्ध खगोलविद Amedeo Maiuri ने इसे खतरनाक नरक के द्वार की संज्ञा दी.

5. प्लूटो का द्वार, तुर्की

यूनानी मिथकों में प्लूटो यानि हेडीज को पाताल का देवता बताया गया है, जहां आत्माओं का राज चलता है. इसी को नरक जाने का रास्ता बताया गया है. हाल ही में तुर्की के रेगिस्तान में पुरातत्विद फ्रांसेस्को को रिसर्च में एक मंदिर और स्नानागार के अवशेष मिले हैं. इसी के बगल में एक जहरीले गैस वाली गुफा है, जिसके पास से उड़ते-गुजरते पक्षियों और जानवरों की मौत हो जाती है.

6. सेंट पैट्रिक की घाटी, आयरलैंड

15वीं सदी की इस घाटी को नरक का प्रवेश द्वार कहा जाता है. ऐसा माना जाता है कि यीशु यहीं पर सज़ा देते हैं. पौराणिक कहानियों के मुताबिक, सेंट पैट्रिक जब यहां घूमने आए, तो उन्हें यीशु द्वारा नरक में यातना के दृश्य दिखे और वे उसी में चले गये.

7. LACUS CURTIUS, रोम, इटली

रोम में पत्थर के एक छोटे से कुएं को नरक का प्रवेश द्वार माना जाता है. ऐसा कहा जाता है कि सूबेदार LACUS CURTIUS ने घोड़े की सवारी से रोम को बचाने के लिए अपनी जान दे दी थी. इनकी जान इसी कुएं में गई थी.

8. लुइसियाना में नरक का द्वार

लुसियाना शहर में सड़क के चौराहे पर मौजूद यह गेट नरक का द्वार है.

9. आग से दहकता गड्ढा, चीन

चीन में आग से दहकता एक गड्ढा है, जिसे नरक का द्वार कहा जाता है. गौरतलब है कि 2 मीटर की दूरी से इस गड्ढे का तापमान 792 डिग्री सेल्सियस मापा गया है. इसके स्पर्श मात्र से ही कोई भी चीज़ जल कर भस्म हो जाती है.

10. भूतों का शहर, चीन

इस शहर में पूरी तरह से सन्नाटा पसरा हुआ होता है. 2000 साल पुराना यह शहर मिंग पहाड़ी पर स्थित है. पौराणिक कथाओं के मुताबिक, यह शहर नरक से जुड़ा हुआ है. यहां पर एक विशाल चट्टान की मूर्ति है, जिस पर भूत-पिशाच और राक्षसों के चित्र हैं.

Source: dailymail