सोशल मीडिया पर अकसर रेप और छेड़छाड़ की वीडियोज़ पोस्ट की जाती हैं. हाल ही में बिहार के जहानाबाद में भी कुछ बेशर्मों ने एक नाबालिग के साथ Molestation का वीडियो फ़ेसबुक पर डाल दिया था. तफ़्तीश के बाद कुछ मुजरिमों को गिरफ़्तार किया गया लेकिन इसमें भी कुछ दिन लग गए थे.

अब इससे मिलती-जुलती एक और घटना कोलकाता में घटी है. शनिवार को एक महिला ने दोपहर के 1 बजे फ़ेसबुक पर एक पोस्ट और वीडियो डाला. महिला बस से सफ़र कर रही थी और एक व्यक्ति उसे देखकर Masturbate कर रहा था.

आज-कल ये बेहद आम सी बात हो गयी है. अकसर इस तरह की घटनायें देश में होती रहती हैं लेकिन ये घटना बाकी घटनाओं से ज़रा अलग थी. महिला द्वारा वीडियो डाले जाने के 8 घंटे बाद कोलकाता पुलिस ने आरोपी को गिरफ़्तार कर लिया.

महिला के पोस्ट को लगभग 35,000 बार शेयर किया गया. रात के 8:30 बजे के करीब पुलिस ने आरोपी को गिरफ़्तार किए जाने की ख़बर पोस्ट की. रात के 10:30 बजे इस पोस्ट को 36,000 Reactions थे.

ये सोशल मीडिया के फ़ायदे का बहुत अच्छा उदाहरण है लेकिन महिला ने जिस घटना का सामना किया वो हमारे देश में आम सी बात लगने लगी है. राह चलते कहीं भी लोग बेशर्मी की सारे हदें पार कर महिलाओं और छोटी-छोटी लड़कियों को देखकर Masturbate करने लगते हैं.

चिंताजनक ये भी है कि बस में मौजूद किसी भी अन्य यात्री ने, महिला के शोर मचाने पर भी आवाज़ नहीं उठाई.

महिला के पोस्ट के अनुसार, आरोपी ने पहले भी उसी बस में ऐसी ही हरकत की थी. महिला को ज़्यादा हैरानी इस बात की है कि न तो कंडक्टर और न ही अन्य यात्रियों ने आरोपी के खिलाफ़ कोई Action लिया.

महिला ने बताया,

मैं और मेरी दोस्त बस नंबर 30B/1 से Hedua की तरफ़ जा रहे थे. अचानक मैंने इस आदमी को देखा जो सबके सामने खड़े होकर मेरे साथ बद्तमीज़ी कर रहा था. जब मैंने बस कंडक्टर से शिकायत की तो उसने हंसते हुए कहा, 'इसमें मैं क्या कर सकता हूं. क्या पता उसके दिमाग़ में क्या चल रहा है?' मैं ज़ोर से चिल्लाई कि 'कोई इसे पकड़ो, ये मेरे साथ बद्तमीज़ी कर रहा है. किसी ने कुछ नहीं कहा.
यही घटना 15 दिन पहले भी हुई थी. मैं डर गई थी और कुछ नहीं कर पाई थी. पर इस बार मैंने विरोध किया. मुझे न्याय चाहिए.
एक दिन उसने अपनी पैंट उतार कर अपना प्राइवेट पार्ट निकाल लिया था. मेरे पास कोई सुबूत नहीं था. इसलिये मैं कुछ नहीं कर पाई.

आरोपी एक Hawker है और हुगली का रहने वाला है.

जहां एक तरफ़ शहरवासियों ने कोलकाता पुलिस की सराहना की है, वहीं दूसरी तरफ़ जब कोलकाता मेट्रो में एक कपल ने Hug किया था, तो उनकी पिटाई कर दी गयी थी. यहां एक लड़की के मदद मांगने के बावजूद भी लोग चुप थे.

Source- NDTV