कुत्ते को सबसे वफ़ादार जानवर के रूप में जाना जाता है. कोई भी कुत्ता अपने मालिक के प्रति इतना वफादार होता है कि उसके लिए अपनी जान तक न्योछावर कर देता है. कुछ दिंनो पहले ही मुंबई से एक ख़बर आयी थी कि एक पालतू कुत्ते ने अपनी मालकिन की जान बचाने के लिए उनकी तरफ आ रही गोली अपने ऊपर ले ली. लेकिन दिल्ली से सटे गुरुग्राम से एक हैरान करने वाली ख़बर आ रही है कि एक पालतू कुत्ते का अपहरण करने के बाद उसको पीट-पीट कर मार दिया गया. इतना ही नहीं मारने के बाद आरोपी उसके मांस को पका कर खा भी गए.

ये घटना गुरुग्राम में स्थित साइबर सिटी की है. डीएलएफ़ फेज़-2 में रहने वाले श्रीवास्तव दंपती की शिकायत को आधार बनाकर पशुओं के संरक्षण के लिए काम करने वाली संस्था पीएफए (पीपुल फ़ॉर एनिमल्स) की ओर से डीएलएफ़ फेज़-2 थाने में मामला दर्ज कराया गया है. दम्पति का आरोप है कि कुछ लोग उनके पालतू कुत्ते को उठाकर ले गए थे.डीएलएफ़ फेज़-2 के पुलिस स्टेशन द्वारा एक अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ़ केस दर्ज किया गया है.

Source: hindustantimes

इसके साथ ही पीएफए ने सबूतों के रूप में पुलिस को चार वीडियो भी दिए हैं और जिस घर में कुत्ते को मारा गया था,वहां की गूगल मैप लोकेशन भी पुलिस को दी है. आपको बता दें कि पीएफए द्वारा दिए गए वीडियो में एक आदमी कुत्ते को मारकर खाने की बात कर रहा है. ये वीडियो उसके साथियों ने ही वायरल किया था.

गौरतलब है कि डीएलएफ़ फेज़-2 में रहने वाली अनुपमा श्रीवास्तव का देशी पालतू कुत्ता 1 अप्रैल को गायब हो गया था. उन्होंने उसको ढूंढने के लिए आस-पड़ोस में उसको खोजा और पूछताछ भी की. लेकिन वो नहीं मिला. इसके बाद उन्होंने 17 अप्रैल को कुत्ते के गायब होने की शिकायत पुलिस से की. उनके कुत्ते का नाम ब्राउनी था. ब्राउनी की तलाश के लिए 2000 पोस्टर भी छपवाए गए और साथ ही उसके बारे में जानकारी देने वाले व्यक्ति को 5,000 रुपये का इनाम देने की घोषणा भी की. इन पोस्टर्स को देखने के बाद दो लोगों ने उनसे कांटेक्ट किया. उन्होंने बताया कि ब्राउनी को सिकंदरपुर गांव के पास एक घर में ले जाया गया था. उसी घर में उसके मुंह और पैरों को बांध कर पीट-पीट कर मार दिया गया. उन दोनों ने ये भी बताया कि आपके कुत्ते को पूर्वोत्तर के कुछ लोग उठाकर ले गए थे.

पीएफए के अध्यक्ष अमित चौधरी ने बताया कि 'उन्होंने मामले की जांच की और उनके पास इससे संबंधित पांच वीडियोज़ भी हैं. उन्होंने ये भी कहा कि वीडियो को देखने के बाद ये पता चला कि ब्राउनी को उसके मांस के लिए बेरहमी से मार दिया गया था. चौधरी ने ये भी कहा कि ऐसे लोगों पर हम नज़र बनाये हुए हैं.'

डीएलएफ़ फेज़-2 की थाना पुलिस ने बीते सोमवार को भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 379 (चोरी) और 429 (जानवरों को मारने या दुर्घटना के द्वारा दुर्व्यवहार) और पशु अधिनियम के लिए क्रूरता की रोकथाम की धारा 11 (1) (A) के अंतर्गत केस दर्ज किया है. डीएलएफ़ फेज़-2 के थाना प्रभारी सुदीप सिंह ने बताया कि जांच से ये बात साफ़ हो गई है कि कुत्ते का अपहरण किया गया था और इस मामले की जांच की जा रही है.

ये घटना तो यही साबित करती है कि वर्तमान में इंसानों के अन्दर इंसानियत रह ही नहीं गई है.

Source: hindustantimes