बॉलीवुड में इस वक़्त एक Rule चल रहा है, जिसके हिसाब से किसी भी फ़िल्म के किसी भी सीन को बैन/ अनफ़िट फ़ॉर ऑडियंस/ असंस्कारी/ घोषित किया जा सकता है. इस Rule का नाम है, 'पहलाज निहलानी Rule'. इस Rule में अलग-अलग Permutation-Combinations का इस्तेमाल करते हुए फ़िल्मों पर, उनके सीन्स पर बैन लगाया जाता है. इस रूल के स्कैनर में आ गयी है अनुष्का शर्मा की फ़िल्म 'फिल्लौरी'.

Source: moifightclub

फ़िल्म के जिस एक सीन को सेंट्रल बोर्ड ऑफ़ फ़िल्म सर्टिफ़िकेशन ने चेंज करने को कहा है, वो सुन कर हो सकता है आपकी धार्मिक भावनाएं आहत हो जायें, इसलिए अपने रिस्क पर पढ़ें.

Source: Bollywooddirect

CFBC का मानना है कि फ़िल्म के एक सीन में सूरज शर्मा डर के मारे हनुमान चालीसा पढ़ रहा होता है और उसके बगल में अनुष्का शर्मा बैठी रहती है. फ़िल्म में अनुष्का ने एक फ़्रेंडली भूत का रोल किया है. ऐसे देखने में लगेगा कि सीन में कोई ख़ास दिक्कत तो नहीं हैं.

लेकिन...

हनुमान चालीसा पढ़ने के बाद अच्छे-अच्छे भूत भाग जाते हैं, तो फ़िल्म के इस सीन में अनुष्का शर्मा क्यों नहीं भागी?

कमाल की Observation है CFBC की! आपकी पारखी नज़र और निरमा सुपर दोनों को!

हिन्दू मान्यताओं के हिसाब से हनुमान चालीसा पढ़ने से सभी भूत भाग जाते हैं. इससे हिन्दुओं की मान्यता को ठेस पहुंचेगी, क्योंकि वो सालों से अपनी आस्था हनुमान चालीसा में मानते आये हैं.

फिल्लौरी को पहले से ही U/A सर्टिफ़िकेट दिया जा चुका है और इसे एक Satire के तौर पर ही प्रमोट किया जा रहा है. हालांकि अब CBFC के इस सीन पर आपत्ति होने के बाद फ़िल्म में आप सूरज शर्मा को कुछ बड़बड़ाते हुए सुनेंगे, लेकिन वो हनुमान चालीसा नहीं होगी. 

Feature Image Source: Indian Express