आज हर दूसरा व्यक्ति मोटापे की समस्या से परेशान है और इंटरनेट पर वज़न घटाने के नुस्खे खोजता रहता है. लेकिन आज हम आपको जो फ़ोटोज़ दिखाने जा रहे हैं, वो हैं तो मोटापे से सम्बंधित पर बेहद अलग.

Haley Morris-Cafiero, जो एक फ़ोटोग्राफ़र हैं, ने जब इस भीड़भाड़ और प्रकृति के बीच अपनी खुद की फ़ोटोज़ को खींचने का फ़ैसला किया, और जब उन्होंने अपनी तस्वीरें देखीं तो उनको काफ़ी बुरा फ़ील हुआ. पर उस समय उन्होंने ये सोचा भी नहीं था कि उनका ये प्रोजेक्ट उनको पूरी दुनिया में प्रसिद्धि दिलाएगा. उनके इस प्रोजेक्ट का नाम है 'Wait Watchers'. इस प्रोजेक्ट में एक सामाजिक प्रयोग किया गया है जिसके अंतर्गत इन फ़ोटोज़ की सीरीज़ को एक किताब के रूप में प्रस्तुत किया गया है. इसका मक़सद ये जानना है कि राह चलते लोग कैसे एक ओवर वेट या अधिक वज़नी व्यक्ति को देखकर प्रतिक्रिया देते हैं.

2010 में Times Square के आस-पास ली गई अपनी खुद की फ़ोटोज़ में Haley Morris-Cafiero ने नोटिस किया कि कैसे उसके पीछे खड़ा एक शख़्स अपनी फ़ोटो के लिए पोज़ देने के बजाए उनको घूर रहा था. इतना ही नहीं वो व्यक्ति कुछ देर तक उनको घूरता रहा, इससे ये बात साफ़ हो गई कि वो आदमी उनके वज़न के कारण उनको जज कर रहा है. Haley Morris-Cafiero ने कहा, 'मैंने सुना है कि लोग मेरी पीठ पीछे मेरे वज़न पर टिप्पणी करते हैं, लेकिन मैंने ये कभी नहीं सोचा था कि लोगों की इन प्रतिक्रियाओं को कैमरे में क़ैद करने में सक्षम हूं.' इसके बाद उन्होंने लोगों के ऐसे एक्सप्रेशंस को कैद करने का फ़ैसला लिया और वो सफ़ल भी हुई.

Haley अपना कैमरा एक ट्राइपॉड के साथ किसी भी सार्वजनिक स्थान जो उनको रोचक लगता था पर सेट कर देती थी. उसके बाद नॉर्मल एक्टिविटी, जैसे फ़ोन पर बात करते हुए, बैठे हुए या फिर आइसक्रीम खाते हुए अपनी फ़ोटोज़ खींचती थी. ख़ास बात ये है कि इस तरह से फ़ोटो खींचने के लिए उन्होंने कोई ख़ास तैयारी नहीं की, न ही ऐसे कपड़े पहने जो लोगों का ध्यान आकर्षित करें.

ये फ़ोटोज़ सोशल मीडिया पर पोस्ट करने के बाद Morris-Cafiero को लोगों की पॉज़िटिव और निगेटिव दोनों तरह की प्रतिक्रियाएं मिली। लोगों ने उनको प्रोत्साहित किया कि इस तरह की फ़ोटोज़ को पोस्ट करना चालू रखें. और अपनी फ़ोटोज़ के लिए थोड़ा सा मेकअप करें, ठीक तरह से कपड़े पहनें ताकि लोग उनको उस तरह से ना देखें जैसे देखते आये हैं.

इसके बाद उन्होंने अपनी इस तरह की फ़ोटोग्राफ़ी को जारी रखने का फ़ैसला किया, लेकिन इस बार उन्होंने अपनी फ़ोटोज़ में अजनबियों के रिएक्शंस को क़ैद करने की कोशिश की और इसमें वो कामयाब भी रहीं क्योंकि उन्होंने वैसा ही किया जैसा उनके फ़ॉलोवर्स ने उनसे करने को कहा था. मगर विडम्बना देखिये कि जब इस महिला ने दूसरों के लिए खुद को बेहतर बनाने की कोशिश, तब भी उनकी प्रतिक्रियाएं वैसी ही थीं, जैसे पहले थीं.

ये फ़ोटोग्राफ़र, जो अतीत में Hypothyroidism के कारण eating disorder की समस्या से जूझ रही थी का कहना है कि उसे परवाह नहीं है कि लोग उसके बारे में क्या सोचते हैं और ये प्रोजेक्ट किसी को बुरा महसूस कराने के लिए नहीं बनाया गया है. 'मेरा मक़सद किसी पर गुस्सा निकालना नहीं है. मैं इसे केवल एक सामाजिक प्रयोग मानती हूं. ये किसी भी तरह की सनसनी फैलाने के लिए नहीं है. ये केवल कैमरे का कमाल है, जो अजनबियों को भी उस पल में क़ैद करता है. वास्तव में मुझे लगता है कि ये समाज का बैरोमीटर है.'

हालांकि, इस फ़ोटो सीरीज़ ने सोशल मीडिया पर कुछ विवादों को भी जन्म दिया है क्योंकि इंटरनेट पर हर यूज़र फ़ोटोग्राफ़र के इन दावों का समर्थन नहीं करता है. जबकि इन फ़ोटोज़ में कई अजनबियों की भी फ़ोटोज़ हैं, तब भी कोई पूरे दावे के साह इस बात की पुष्टि नहीं कर सकता है कि लोग इसमें किसी का मज़ाक उड़ा रहे हैं या नहीं। कई टिप्पणीकारों के अनुसार, किसी को देखकर ये अंदाज़ा नहीं लगाया जा सकता है कि फ़ोटो में दिखने वाला अजनबी कोई नकारात्मक प्रतिक्रिया दे रहा है. हो सकता है कि वो कैमरे को देखकर उत्सुक हो या फ्रेम से बाहर जाने की कोशिश कर रहा हो.

अब आप देखिये इस महिला फ़ोटोग्राफ़र की ये फ़ोटोज़:

1.

2.

3.

4.

5.

6.

7.

8.

9.

10.

11.

12.

13.

14.

15.

16.

17.

18.

19.

20.

21.

22.

23.

तो दोस्तों अब आप बताइये कि इस प्रोजेक्ट के बारे में आप क्या सोचते हैं. कमेंट करके बताइयेगा.

Source: boredpanda