एक बात बताइये, क्या आप कभी हेलमेट लेने गए हैं और दुकानदार से कहा है कि 'भइया, वो नकली वाला हेलमेट देना?' या ताला खरीदते समय आपने कभी कहा है कि 'थोड़ा कमज़ोर भी होगा तो चलेगा'. नहीं न?

हम जीवन में सुरक्षा और ऑथेंटिसिटी के साथ कभी कॉम्प्रोमाइज़ नहीं करते हैं, फिर ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ क्यों? आज का युग, इलेक्ट्रॉनिक युग है और आज की जेनरेशन, इंटरनेट जेनरेशन. ऐसे समय में हमारी सारी ज़रूरी जानकारी, हमारे कंप्यूटर में ही रहती है. आप सचेत नहीं रहेंगे, तो कोई भी आसानी से आपकी सारी इन्फ़ॉर्मेशन पता कर सकता है. और अगर आपके कंप्यूटर में इंस्टॉल्ड है पायरेटेड OS तो फिर अपनी सेंसिटिव इन्फ़ॉर्मेशन की सुरक्षा भूल ही जाइये. इसीलिए हम आपको पहले से ही बता रहे हैं कि अगर आप अपने OS को लेकर सावधान नहीं रहेंगे तो लाइफ़ में कुछ ऐसी घटनाएं घट सकती हैं.

Source: Keyword-Suggestions

1. टॉप 100 आइडियाज़ में से आपका 'बिग आईडिया' सेलेक्ट हुआ है और VC के साथ मीटिंग है. आपने बड़ी मेहनत से अपना प्रेज़ेंटेशन तैयार किया है. सूट-बूट में आप टिप-टॉप लग रहे हैं और लैपटॉप को प्रोजेक्टर से कनेक्ट कर दिया है. जैसे ही आप अपने प्लान का सबसे ज़रूरी पार्ट बताने जा रहे थे कि तभी... Windows Could Not Start SQL Server. अब?

Source: Betanews

2. नयी जॉब लगी है. परिवारवालों के लिए आपने ऑनलाइन गिफ़्ट्स खरीदे हैं. पेमेंट भी आपने क्रेडिट कार्ड से किया है. खरीददारी तो आपने कर ली, लेकिन अगले दिन एक SMS आता है कि 10,000 रुपये और आपके कार्ड से कट गए हैं. ये शॉपिंग आपने तो की नहीं... फिर कौन हो सकता है? हैकर्स! ऐसा न होता, अगर आपके पास होता Genuine ऑपरेटिंग सिस्टम.

Source: MobileYantra

3. आपने गलती से एक स्पैम मेल पर क्लिक कर दिया. अब आप जहां भी अपना लैपटॉप चालू करते हैं, सैकड़ों Popups आपको इर्रिटेट करते हुए उछलने लगते हैं. अगर आपके सिस्टम में Genuine OS होता तो ये दिन न देखना पड़ता.

Source: Templatesold

4. आपने अपने घर पर अपनी गर्लफ्रेंड को मूवी डेट के लिए बुलाया है. दिवाली वाली लाइट्स लगा कर आपने रोमांटिक-सा माहौल भी बनाया है. काउच पर आप और आपकी गर्लफ्रेंड बैठे हैं और लैपटॉप पर उसकी पसंदीदा मूवी चल रही है. सब कुछ सही चल रहा है कि तभी... Blue Screen- Fatal Exception! डेट की तो वाट लग गयी!

Source: Rawstory

5. अब आप पायरेटेड OS का उपयोग तो कर रहे हैं, लेकिन उसकी वजह से आपके सिस्टम में कई वायरस और Malware ने हमला कर दिया है. ऐसे हालातों में न ही आप कस्टमर केयर को कॉल लगा सकते हैं, न ही किसी Official एक्सपर्ट से मदद मांग सकते हैं. क्या आप अपना ज़रूरी डाटा ले कर ग्रे मार्किट वाले वेंडर के पास जायेंगे? नॉट अ गुड आईडिया!

Source: MalwareTips

इन सारी परिस्थितियों से बचने का बहुत ही आसान तरीका है. आपके कंप्यूटर में होना चाहिए सिर्फ़ Genuine सॉफ्टवेयर. आपको नियमित अप्डेट्स के अलावा कस्टमर सपोर्ट की सेवा भी मिलेगी. आपका सिस्टम Malware, Viruses और हैकर्स से तो बचा ही रहेगा, साथ ही दिल और दिमाग रहेगा टेंशन फ़्री! पहचानिये #PowerOfGenuine को. इस आर्टिकल को लाइक और शेयर करना न भूलें.

An Initiative By Microsoft