मोदी सरकार में मंत्री पीयूष गोयल को बेस्ट परफॉर्मिंग मिनिस्टर माना जाता है. ऐसा कहा जाता है कि वो हर मामले में सक्रिय रहते हैं और विवादों व झंझटों से दूर रहते हैं. मगर इस बार शायद वो विवादों से बच नहीं पाये. एक मीटिंग के दौरान उनकी नाक के नीचे ही भारतीय तिरंगे का अपमान हो रहा था, लेकिन मंत्री साहब को इसकी भनक तक नहीं लगी. जैसे ही उस मीटिंग की तस्वीरें सोशल मीडिया पर सामने आई, वह ट्रेंडिंग ख़बर बन गई.

दरअसल, ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल नवीकरणीय ऊर्जा पर एक कॉन्फ्रेंस को अटेंड करने संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी अबू धाबी गये थे. ऊर्जा सम्मेलन के मौके पर गोयल सउदी अरब के अपने समकक्षी Khalid al-Falih के साथ 'भारत-सऊदी अरब द्विपक्षीय सहयोग वार्ता' विषय पर मीटिंग कर रहे थे.

मीटिंग तो सही हुई, मगर एक चीज़ गड़बड़ हो गई.

The Saudi Press Agency ने मीटिंग की फोटोज़ को ट्विटर पर शेयर किया. इन फोटोज़ में पीयूष गोयल और Khalid al-Falih दोनों दिख रहे हैं.

मगर अब इस ट्वीट को हटा दिया गया है.

क्या अब भी आपको वो गलती दिखी.

ग़ौर से देखने पर आपको पता चलेगा कि मीटिंग के दौरान भारतीय तिरंगा उल्टा नज़र आ रहा है.

गौरतलब है कि मीटिंग की मेज़बानी की पूरी जिम्मेदारी सऊदी अधिकारियों की थी. फिर भी उन्होंने तिरंगे को उल्टा लगाने की चूक की है. मगर अफ़सोस कि इस बैठक में मौजूद केंद्रीय ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल का भी इस पर ध्यान नहीं गया. ध्यान रहे कि ये कोई छोटी-मोटी ग़लती नहीं है, बल्कि एक बड़ी ग़लती है.

इस ग़लती को सोशल मीडिया पर बाज़ की नज़र रखने वालों ने पकड़ लिया और पीयूष गोयल की जमकर खिंचाई हुई.

गौरतलब है कि यह मामला ऐसे वक़्त में सामने आया है जब कुछ दिन पहले ही विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने तिरंगे वाले डोरमैट बेचने को लेकर एमेज़न को फटकार लगाई है.

Source: Topyaps
Feature image source: inkhabar