अबू धाबी से एक अच्छी ख़बर सामने आई है. दरअसल, संयुक्त अरब अमीरात (UAE) की राजधानी में पहला हिंदू मंदिर बनने जा रहा है और इस ऐतिहासिक क्षण के गवाह ख़ुद पीएम नरेंद्र मोदी बने.

रिपोर्ट के मुताबिक, रविवार यानि, आज वीडियो कॉन्फ्रे़ंसिंग के ज़रिए पीए मोदी ने मंदिर का शिलान्यास किया. यहां भारतीय मूल के 30 लाख़ से भी अधिक लोग रहते हैं. बीते शनिवार को पीएम के पहुंचने पर मंदिर समिति के सदस्यों ने उन्हें मंदिर से जुड़ा साहित्य सौंपा. 2015 के बाद ये प्रधानमंत्री की दूसरी UAE यात्रा है.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट कर इस ख़बर की पुष्टि की, 'दुबई-अबू धाबी राजमार्ग पर बनने वाला ये मंदिर अबू धाबी का पहला होगा, जिसे राजस्थान में पाए जाने वाले पिंक स्टोन से बनाया जाएगा.'

एक इंटरव्यू में UAE में भारत के राजदूत नवदीप सिंह सूरी के अनुसार, ‘अबू धाबी में प्रथम हिंदू मंदिर 55000 वर्ग मीटर भूमि पर बनेगा और जिसका शिलान्यास आज रखा गया है.' इस पूरे आयोजन की लाइल स्ट्रीमिंग भी दुबई ओपेरा हाउस से की गयी.

दुबई में इस मंदिर का बनना का मतलब है परंपरा का प्रौद्योगिकी से मिलना. इस मंदिर का निर्माण भारतीय शिल्पकार कर रहे हैं. ये कार्य 2020 में पूरा होगा. बोचासनवासी श्री अक्षर पुरषोत्तम स्वामीनारायण संस्था (बीएपीएस) के प्रवक्ता ने बताया कि पश्चिम एशिया में पत्थरों से बना यह प्रथम हिंदू मंदिर होगा.

पीएम मोदी का ये UAE दौरा दोनों देशों के बीच आने वाले समय में ऐतिहासिक रिश्तों की ओर इशारा करता है.

Source : ndtv