फ़िल्मों में आपने चोरों को पुलिस की आंखों में धूल झोंकते, तो कई बार देखा होगा, पर दिल्ली में चोरों ने लोगों की आंख में ऐसी धुल झोंकी कि उन्होंने पुलिस वालों को ही अपराधी समझ कर पीट डाला.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की ख़बर के मुताबिक, उत्तर प्रदेश पुलिस के जवान दो स्नैचरों की तलाश में दिल्ली के सोनिया विहार पहुंचे थे. यहां पुलिस वालों पर उस समय मामला उल्टा पड़ गया, जब लोगों ने उन्हें चोर समझ लिया और उनकी ही पिटाई कर दी.

दरअसल, चोरों को पकड़ने के लिए उत्तर प्रदेश के लोनी पुलिस स्टेशन के सब-इंस्पेक्टर मनीष चौहान और कांस्टेबल किरणपाल राठी सादे कपड़ों में यहां पहुंचे थे, पर लोगों की ग़लतफ़हमी का शिकार हो गए. यहां लोगों ने उन्हें पीटने के साथ ही उनकी सर्विस रिवॉल्वर भी छीन ली.

लोनी के सर्कल ऑफ़िसर परमानन्द सिंह का कहना है, 'ये सब सिर्फ़ एक ग़लतफ़हमी की वजह से हुआ है. पुलिस अफ़सर हाथ में रिवॉल्वर ले कर अपराधियों को पकड़ने गए थे, जिसे लोगों ने ग़लत समझ लिया.'

दोनों अधिकारियों को इलाज के लिए सिविल लाइन्स के ट्रॉमा सेंटर में एडमिट कराया गया है.

Source: TOI

Representational Image: Ht