सोशल मीडिया इस्तेमाल करने वाला हर दूसरा बंदा आज बॉबी कटारिया के नाम को अच्छे से पहचानता है. बॉबी कटारिया का फ़ेसबुक पेज ऐसी वीडियोज़ से भरा हुआ है, जिनमें वो अपने ही ठेठ अंदाज़ में कभी सोशल सर्विस, तो कभी आम आदमी से जुड़े गंभीर मुद्दों को उठाता हुआ दिखाई देते हैं.

ख़ैर, सोशल मीडिया पर आपको ऐसा करते हुए कई लोग दिखाई दे जायेंगे, पर बॉबी कटारिया उन सभी लोगों से काफ़ी अलग हैं. गुड़गांव की बड़ी-बड़ी ईमारतों और फ्लैट्स में रहने वालों के उलट बॉबी कटारिया मीडिल क्लास कॉलोनी के छोटे-छोटे घर में रहने वाले लोगों के लिए एक आवाज़ बन कर उभरे हैं.

क्या सिर्फ़ फ़ेसबुकिया रॉबिनहुड हैं बॉबी?

बॉबी कटारिया के फ़ेसबुक अकाउंट से मिली जानकारी के अनुसार बॉबी ख़ुद को World Professional Bodybuilding and Physique Federation (WPBPF, Canada) का जनरल सेक्रेटरी बताते हैं. बॉबी के फ़ेसबुक पेज को देखने पर आप उन्हें उस रॉबिनहुड की तरह पाएंगे, जो समय-समय पर सोशल मीडिया के ज़रिये लोगों की परेशानियों को उठा कर कभी प्रशासन, तो कभी पुलिस की कार्यशैली पर सवाल करता है.

बीते कुछ महीनों में बॉबी की पॉपुलैरिटी इतनी बढ़ी है कि वो फ़ेसबुक पर किसी सेलेब से कम नहीं है. करीब 181,788 लोग उसे फॉलो करते हैं. कुछ महीने पहले तक बॉबी कटारिया अपने अकाउंट से पुलिस वालों के कुछ ऐसे लाइव वीडियो कर रहे थे, जिनमें वो कभी शराब पीते हुए, तो कभी ड्यूटी टाइम पर मसखरी करते हुए दिखाई देते थे. इन वीडियोज़ को बनाते वक़्त कई बार बॉबी की ज़बान भी फ़िसलती हुई दिखाई दी, जिनमें वो पुलिस वालों को खुले आम गाली देते हुए भी दिखाई दिए, जिसकी हर तरफ़ आलोचना भी हुई.

पुलिस वालों भावनाओं को ठेस पहुंचाने के लिए मांगनी पड़ी थी माफ़ी

ख़ैर, अपने शब्दों के लिए बॉबी कटारिया ने फ़ेसबुक पर माफ़ी मांगी. पिछले साल के दिसंबर में बॉबी ने एक वीडियो अपलोड किया, जिसमें उन्होंने दावा किया कि उसने एक कार का पीछा करके लड़की को किडनैप होने से बचाया. फिर भावनाओं में बहते हुए पुलिस के ख़िलाफ़ अभद्र भाषा का प्रयोग करने लगे.

लड़की की किडनैपिंग का वीडियो आने के बाद गुरुग्राम पुलिस इस मामले को गंभीर हो कर लिया और तुरंत हरकत में आई. मामले की सच्चाई जानने के लिए पुलिस ने बॉबी को ढूंढना शुरू किया, पर बॉबी ने जैसे अज्ञातवास में शरण ले ली हो. पुलिस ने अपनी जांच में किडनैपिंग वाली बात को झूठा पाया. इसके बाद पुलिस गुरुग्राम के सेक्टर-9ए और सेक्टर-5 थाने में बॉबी पर आईटी एक्ट सहित कई धाराओं पर मामला दर्ज किया.

सेवा भाव से जब बन गया विवाद

ख़बरों की माने, तो सेक्टर 9 में तैनात एक ASI के ख़िलाफ़ बॉबी ने जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल किया व सेक्टर दस के थाना प्रभारी को अपशब्द कहने के आरोप में पुलिस ने बॉबी कटारिया पर एक और केस दर्ज किया. दैनिक जागरण की ख़बर के मुताबिक, बॉबी पर फेसबुक व यू-ट्यूब पर वीडियो डालकर रंगदारी मांगने और जान से मारने की धमकी देने का भी आरोप है.

हालांकि कहा जा रहा है पुलिस ने बॉबी को फंसाने के लिए जानबूझ कर मामले को तोड़-मोड़ कर पेश किया है. लोगों का कहना है कि एक प्राइवेट स्कूल की बस ने एक बच्ची को कुचल दिया था, जिसमें वो बुरी तरह घायल हो गई थी. एक्सीडेंट की वजह से बच्ची एक पैर भी काटना पड़ा था. पैसों की कमी की वजह से उसके माता-पिता भी इलाज कराने में असमर्थ थे, जिसकी वजह से उसके पूरे पैर में इन्फेक्शन भी फ़ैल गया था.

बॉबी ने लड़की के समर्थन में एक वीडियो बनाया, जिसमें उन्होंने स्कूल की प्रिंसिपल से बच्ची का इलाज कराने और उसका ख़र्च उठाने को कहा था, जिसके बाद स्कूल प्रिंसिपल ने बॉबी पर रंगदारी का आरोप लगाते हुए थाने में शिकायत दर्ज करा दी.

ख़ैर, पुलिस ने बॉबी को 25 दिसंबर 2017 की रात एमजी रोड स्थित एक मॉल से गिरफ्तार किया, जिसके बाद दो दिन पुलिस रिमांड पर फरीदाबाद भेज दिया गया. कहा जा रहा है कि रिमांड में पुलिस वालों द्वारा बॉबी के साथ बुरी तरह मारपीट की गई है, जिसकी वजह से बॉबी अपने पैरों पर भी नहीं खड़े नहीं हो पाए.

लोगों ने शुरू किया Support Bobby Kataria कैंपेन.

वहीं लोग खुल कर बॉबी कटारिया का समर्थन कर रहे हैं. उनके समर्थन में Support Bobby Kataria नाम से एक फ़ेसबुक पेज भी बनाया गया है, जिसे 3 लाख से ज़्यादा लोग फॉलो कर रहे हैं. सड़कों पर भी लोग बॉबी कटारिया को अपना हीरो बताते हुए पोस्टर लगा रहे हैं. कोई उन्हें गुरुग्राम का आगामी MP बता रहा है, तो कोई उनमें वर्तमान का भगत सिंह खोज रहा है.

वहीं बॉलीवुड सिंगर फाज़िलपुरिया ने भी अपने फ़ेसबुक पेज पर बॉबी का समर्थन किया है.

ख़ैर, बॉबी के घर वाले अभी इसी जुगत में है कि उनका लड़का किसी तरह बाहर आ जाए, जिसके लिए उन्होंने भी कोर्ट में याचिका दायर की हुई है.

बॉबी कटारिया हीरो है या विलन ये हम आप पर ही छोड़ते हैं.

आगे जानने के लिए पढ़ते रहिये ग़ज़ब पोस्ट.

Image Source: BobbyKataria